रमज़ान: मुफ़्त कपड़ों के लिए भगदड़, 22 मरे

रमज़ान के दौरान मुसलमान युवक इमेज कॉपीरइट AFP

रमज़ान के पवित्र महीने में ज़कात बांटने के दौरान हुई भगदड़ में कम से कम 22 लोगों की मौत हो गई. इनमें महिलाएं और बच्चे ज़्यादा हैं. यह वारदात उत्तरी बांग्लादेश के मैमनसिंह ज़िले की है.

रमज़ान के महीने में अमरी लोग ग़रीबों के बीच कपड़े वैगरह बांटते हैं. मैमनसिंह ज़िले में एक व्यक्ति ने ज़कात में कपड़े बांटने का ऐलान किया तो उसे लेने सैकड़ों लोग पंहुच गए.

पौ फटने से पहले ही एक तंबाकू कारखाने के छोटे दरवाजे के पास तक़रीबन 1,500 लोग मुफ़्त कपड़ा लेने पंहुच गए. छोटे दरवाजे से इतने सारे लोगों के एक साथ अंदर घुसने की कोशिशों की वजह से भगदड़ मच गई.

मालिक हिरासत में

इमेज कॉपीरइट

पुलिस ने कारखाने के मालिक समेत सात लोगों को हिरासत में ले लिया है.

मैमनसिंह ज़िले के पुलिस प्रमुख मोइनुल हक ने समाचार एजेंसी एफ़पी से कहा, “अब तक 17 लाशें मिल चुकी हैं. मारे गए लोगों में महिलाओं और बच्चों की तादात अधिक है.”

पुलिस को आशंका है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार