छत्तीसगढ़ में चार पुलिसकर्मियों का अपहरण

maoist

छत्तीसगढ़ के बीजापुर ज़िले में संदिग्ध माओवादियों ने पुलिस के चार सहायक आरक्षकों का अपहरण कर लिया है.

पुलिस का कहना है कि अग़वा जवानों की तलाश की जा रही है.

ज़िले के एसपी केएल ध्रुव के अनुसार, “बेदरे थाने में तैनात चार जवान सोमवार को कुटरु से बेदरे के लिये रवाना हुये थे. दो जवान यात्री बस में सवार थे, जबकि दो अपनी मोटरसाइकिल से रवाना हुए थे.”

उनका कहना है कि जंगल में माओवादियों ने यात्री बस को रोका और दोनों जवानों को अपने साथ ले गए. इसके बाद मोटरसाइकिल से आ रहे पुलिस जवानों का भी हथियारबंद माओवादियों ने अपहरण कर लिया.

इससे पहले शुक्रवार को भी माओवादियों ने दोरनापाल और पोलमपल्ली के बीच वंजीपास से पुलिस के एक सहायक आरक्षक माड़वी सोमा और एक ग्रामीण का अपहरण किया था.

रविवार को ग्रामीण को तो माओवादियों ने रिहा कर दिया लेकिन माड़वी सोमा का अभी तक पता नहीं चला है.

अपह्रत जवान माड़वी सोमा की रिहाई के लिये उनके परिजनों समेत दो दर्जन से अधिक ग्रामीण शनिवार को ही जंगल के अंदर गए हैं लेकिन उनकी रिहाई अभी तक संभव नहीं हो पाई है.

इधर पुलिस का कहना है कि सभी जवानों की रिहाई के लिये पुलिस तलाशी अभियान चला रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार