याक़ूब के 'जनाज़े में संभावित आतंकवादी' ...

तथागत रॉय इमेज कॉपीरइट TATHAGAT ROY TWITTER

त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा है कि “ख़ुफ़िया एजेंसियों को याक़ूब मेनन के जनाजे में शामिल लोगों (परिजनों और नजदीकी मित्रों को छोड़कर) पर नज़र रखनी चाहिए. कई संभावित आतंकवादी हो सकते हैं.”

1993 के मुंबई बम धमाकों के दोषी याक़ूब मेमन को गुरुवार को नागपुर ज़ेल में फ़ांसी दी गई थी और बाद में उन्हें मुंबई के बड़ा कब्रिस्तान में दफ़नाया गया था.

विवादित ट्वीट्स

तथागत रॉय ने एक के बाद एक कई ट्वीट्स किए. उन्होंने कहा, “राज्यपालों को राज्य की सुरक्षा व्यवस्था के बारे में सचेत रहना चाहिए. याक़ूब के जनाज़े में शामिल लोगों पर निगरानी रखना आतंक को रोकना है. उपचार से बेहतर है.”

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हालाँकि अगले ही ट्वीट में उन्होंने कहा, “ जब मैंने ख़ुफ़िया एजेंसियों से नज़र रखने की बात की है, तो किसी समुदाय का जिक्र नहीं किया है. तो मुझ पर सांप्रदायिक होने का आरोप कैसे लगाया जा सकता है.”

तथागत रॉय ने कहा, “ये मेरा संवैधानिक कर्तव्य है कि मैं जनहित से जुड़ी बातें जनता के संज्ञान में लाऊं. ऐसे कर मैंने राज्यपाल की भूमिका से तनिक भी समझौता नहीं किया है.”

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

राज्यपाल के ट्वीट्स पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए एक यूजर ने हैंडल @shirazmahad पर लिखा, “ये राज्यपाल के शब्द नहीं हो सकते.”

एक अन्य यूजर ने @9usin पर लिखा, “अब तो आप गवर्नर हैं जी थोड़ा संयम और स्तर का ध्यान रखें”

उल्लेखनीय है कि तथागत रॉय ने अपने ट्वीटर बायो में खुद को ‘राजनीतिक व्यक्ति’, और ‘गौरवान्वित स्वयंसेवक’ बताया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार