निलंबित सांसदों पर शत्रुघ्न के पार्टी से अलग बोल

शत्रुघ्न सिन्हा इमेज कॉपीरइट AFP

बिहार से भारतीय जनता पार्टी के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा एक बार फिर विवादों में घिरते नज़र आ रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि उन्हें संसद में 25 सांसदों के निलंबन पर दुख है.

उन्होंने लिखा- सांसद मित्रों के निलंबन पर दुख है, एक निलंबित सांसद तो संसद में थे भी नहीं.

उनका कहना है, "राजनीतिक विरोधी शत्रु नहीं होते. हम अलग राजनीतिक राय रख सकते हैं पर कोई आपसी मतभेद नहीं होना चाहिए."

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री के नीतीश कुमार के उन्हें बिहार का गौरव कहने पर उन्हें नाज़ है.

वे कहते हैं कि वे मेरे दोस्त हैं और जनता के नेता के रूप में मैं उनकी इज़्ज़त करता हूं.

इससे पहले भी नीतीश कुमार ने उन्हें 'बिहार का अभिभावक' बताया था.

याक़ूब की फांसी पर भी घिरे

शत्रुघ्न सिन्हा ने याक़ूब मेमन की फांसी की सज़ा को उम्रक़ैद में तब्दील करने के लिए राष्ट्रपति को भेजी गई याचिका पर भी दस्तख़त किए थे.

बाद में शत्रुघ्न सिन्हा इससे मुकर गए और कहा कि आरोप लगाने वाले तथ्यों को जांच लें तो अच्छा होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार