केंद्र ने किए गुजरात, महाराष्ट्र के सबसे ज़्यादा प्रोजेक्ट पास

वेंकैया नायडू और नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट EPA

भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल शुरू होने के बाद से सभी की नज़रें उन मंत्रालयों पर लगी हैं जिनमें काम तेज़ी से होता दिख रहा है.

ज़ाहिर है प्रधानमंत्री मोदी के तमाम मंत्रियों के बीच भी अपना काम दिखाने की 'होड़' चल ही रही होगी.

पर्यावरण और वन मंत्रालय एक ऐसा ही मंत्रालय है जिस पर अब ये सवाल भी उठने लगे हैं कि यहाँ प्रस्तावों को मंज़ूरी मिलने का सिलसिला कुछ ज़्यादा ही तेज़ है.

दूसरी कड़ी: 'सुस्त मंत्रालय' कैसे हो गया 'चुस्त'..

हालांकि ख़ुद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर इन आरोपों को ये कह कर नकारते हैं, "पिछली सरकार में मंज़ूरी मिलने की प्रक्रिया लचर थी इसलिए अब एक गलत राय बनती जा रही है."

बीबीसी हिंदी ने पर्यावरण मंत्रालय के कुछ ख़ास आंकड़ों को आपके विश्लेषण के लिए जुटाया है. पढ़ें और जानें:

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार