बिहार में फिर जंगलराज न आने दें: मोदी

इमेज कॉपीरइट AP

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाया है कि वो केंद्र की विकास की कोशिशों को राज्य में नहीं पहुंचने देते हैं.

रविवार को बिहार के गया में एक चुनावी रैली में उन्होंने ये बात कही.

मोदी ने कहा, "गंगाजी तो बहती है, लेकिन अगर हम उल्टा लोटा लेकर जाएंगे तो कोई बूंद लेकर नहीं आएंगे."

उन्होंने कहा कि दिल्ली की सरकार विकास की गंगा बहाना चाहती है, लेकिन वो विकास राज्य तक नहीं पहुंच रहा है.

बिहार में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और मुख्य मुक़ाबला भाजपा गठबंधन और जेडीयू-आरेजेडी गठबंधन के बीच है.

'जंगलराज से मुक्ति का पर्व'

मोदी ने कहा है कि बिहार में आने वाला विधानसभा चुनाव 'जंगलराज' से मुक्ति का पर्व होगा.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि बिहार की जनता ने परिवर्तन का फैसला कर लिया है.

इमेज कॉपीरइट AP

उन पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, "25 साल से जिनको झेला है, जिनके हर ज़ुल्म को झेला है, जिनके अहंकार को झेला है, जिनकी धोखाधड़ी को झेला है, इन सबसे मुक्ति का पर्व ये चुनाव आने वाला है."

उन्होंने लोगों से कहा कि 'जंगलराज' को फिर से वापस न आने दें.

मोदी ने आरेजेडी को 'रोज़ जंगलराज का डर' कहा जबकि जेडीयू को उन्होंने 'जनता का दमन उत्पीड़न' नाम दिया.

मोदी ने कहा, अब जंगल राज के साथ जेल का अनुभव भी जुड़ गया है.

शिवराज की तारीफ़

मोदी ने कहा कि मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने विकास कर राज्य को बीमारू राज्यों की श्रेणी से निकाला है.

हालांकि चौहान इन दिनों व्यापमं घोटाले को लेकर आलोचनाएं झेल रहे हैं, जिस पर मोदी की चुप्पी को लेकर अकसर सवाल उठते हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

मोदी ने गया को एक पर्यटन केंद्र के तौर पर विकसित करने की बात कही.

माना जाता है कि गया में ही गौतम बुद्ध को बुद्धत्व की प्राप्ति हुई.

प्रधानमंत्री ने बिहार में इंजीनियरिंग की पर्याप्त सीटें न होने का मुद्दा भी उठाया. उन्होंने कहा कि बिहार में इंजीनियरिंग की सिर्फ 25 हजार सीटें हैं जबकि कई छोटे छोटे राज्यों में भी इन सीटों की संख्या लाखों हैं.

उन्होंने कहा कि हर राज्य में बिहार के युवा आईपीएस और आईएएस बने बैठे हैं और वहां के विकास में योगदान दे रहे हैं, लेकिन ख़ुद बिहार आगे नहीं बढ़ रहा है.

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव की जमकर आलोचना की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)