बीजेपी मतलब 'बड़का झूट्ठा पार्टी': नीतीश

narendra modi इमेज कॉपीरइट AFP

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के गया में चुनावी रैली में अपने भाषण में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा.

मोदी ने अपने भाषण में बिहार में बिजली की कमी और शिक्षा क्षेत्र में पिछड़ेपन का हवाला देते हुए बिहार को बीमारू राज्य कहा था.

इसके जवाब में नीतीश कुमार ने बीजेपी के कालाधन वापस लाने के वादे का हवाला देते हुए बीजेपी को 'बड़का झूट्ठा पार्टी कहा'.

नीतीश ने सख़्त प्रहार करते हुए कहा, ''पहले हम बीजेपी को भारतीय जुमला पार्टी कहते थे लेकिन अब बीजेपी का मतलब 'बड़का झूट्ठा पार्टी' है.''

शिक्षा

नरेंद्र मोदी ने कहा था कि बिहार में इंजीनियरिंग कॉलेजों में सिर्फ़ 25 हज़ार सीटें है. नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि बिहार में इंजीनियरिंग की सीटें बाक़ी राज्यों के मुक़ाबले में कम है.

मोदी ने तुलना करते हुए कहा था, "हिमाचल प्रदेश की जनसंख्या पटना की जनसंख्या के बराबर है लेकिन यहां इंजीनियरिंग की 24 हज़ार सीटें हैं."

इसके जवाब में नीतीश ने कहा कि मोदी बिहार कि तुलना बाक़ी राज्यों से तो कर रहे थे लेकिन ये नहीं बताया कि गुजरात में इंजीनियरिंग की कितनी सीटें हैं.

नीतीश ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री को ये भी बताना चाहिए कि देश में इंजीनियरिंग की कितने सीटें ख़ाली हैं और कितने इंजीनियरों को उनकी सरकार ने रोज़गार दिया है.

इमेज कॉपीरइट Niraj Sahai
Image caption नीतीश और मोदी की तीखी बयानबाज़ी

बिजली

अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने कहा था कि भारत में प्रति व्यक्ति बिजली खपत एक हज़ार किलोवाट सालाना है जो बिहार के मुक़ाबले काफ़ी ज़्यादा है.

मोदी के अनुसार बिहार में बिजली खपत प्रति वर्ष 150 किलोवाट प्रति व्यक्ति से भी कम है जोकि झारखंड से छह गुना कम है.

इसके जवाब में नीतीश ने कहा कि झारखंड बिहार से ही अलग हुआ है. उन्होंने कहा कि सभी बिजली संयंत्र झारखंड में चले गए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार