सौर ऊर्जा से चलेगा कोच्चि एयरपोर्ट

कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा इमेज कॉपीरइट CIAL.AERO

कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा जल्द ही सौर ऊर्जा से चलने वाला भारत का पहला हवाई अड्डा बन जाएगा.

हवाई अड्डे की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि हवाई अड्डा परिसर में 45 एकड़ ज़मीन पर सौर पैनल लगाए गए हैं.

इनसे रोज़ाना पचास से साठ हज़ार यूनिट बिजली पैदा हो सकेगी और इसका इस्तेमाल हवाई अड्डा चलाने में किया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट GOVT

केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी मंगलवार को इस सौर ऊर्जा संयंत्र का उद्घाटन करेंगे.

कोच्चि हवाई अड्डे के प्रबंध निदेशक वी जे कुरियन ने कहा, "इसके साथ ही यह हवाई अड्डा पूरी तरह सौर ऊर्जा से चलने वाला भारत का पहला हवाई अड्डा बन जाएगा. हवाई अड्डे को एक दिन में लगभग 52,000 यूनिट बिजली की ज़रूरत होती है, जो इस और उर्जा संयंत्र से मिल सकेगी."

इमेज कॉपीरइट CIAL.AERO

कोच्चि एयरपोर्ट की विज्ञप्ति में कहा गया है कि 2013 में हवाई अड्डे के आगमन टर्मिनल पर 100 किलोवाट बिजली पैदा करने लायक एक संयंत्र लगाया गया था. 400 सोलर पैनल के साथ बने इस संयंत्र की क्षमता साल भर में बढ़ा कर 1,000 किलोवाट कर दी गई.

इसके बाद यहां 12 मेगावाट क्षमता का संयंत्र लगाया गया. इसके लिए 45 एकड़ ज़मीन पर 46,150 सौर पैनल लगाए गए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार