मेरठ में सैनिक की हत्या, चार गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट Kamran Zuberi
Image caption नाराज परिजन और ग्रामीणों ने अपनी मांगों का एक ज्ञापन मजिस्ट्रेट को सौंपा

उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक युवती से छेड़छाड़ का विरोध करने पर एक सैनिक की हत्या के मामले में एक और व्यक्ति को गिरफ़्तार किया गया है.

ये घटना गुरुवार की है जब छेड़छाड़ का विरोध करने पर कुछ लोगों ने वेदमित्र चौधरी को बुरी तरह पीटा और बाद में अस्पताल ले जाने पर उनकी मौत हो गई.

स्थानीय पत्रकार अतुल चंद्रा के अनुसार टीपी नगर के थाना प्रभारी प्रशांत कपिल ने बताया कि इस मामले में अब तक कुल चार लोगों को गिरफ़्तार किया जा चुका है.

उधर, वेदमित्र के परिजन हत्या में शामिल लोगों की गिरफ़्तारी में देरी होने से नाराज़ हैं.

आर्थिक मदद की मांग

पुलिस के मुताबिक़ युवती के परिजनों ने तीन नामज़द और चार अन्य अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ जानलेवा हमले और छेड़छाड़ की धाराओं में मुक़दमा दर्ज कराया है.

स्थानीय पत्रकार कामराँ जुबेरी के अनुसार मारे गए सैनिक के ताऊ सुरेंद्र सिंह ने आरोप लगाया कि पुलिस की कार्रवाई ढीली होने के कारण ही अभियुक्तों की गिरफ़्तारी में देरी हुई है.

उन्होंने पीड़ित परिवार को सुरक्षा उपलब्ध कराने के अलावा वेदमित्र की पत्नी को नौकरी और बच्चों की पढ़ाई और परवरिश के लिए आर्थिक मदद की मांग भी की.

राज्य सरकार ने चौधरी के परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवज़ा देने का ऐलान किया है.

इस घटना में एक अन्य घायल युवक सचिन को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पुश्तैनी गांव में अंतिम संस्कार

पुलिस के अनुसार पहले वेदमित्र ने एक युवक को मारा. उसके बाद वो युवक पास से सरिया और डंडे ले आए और वेदमित्र और सचिन पर वार कर दिया.

31 वर्षीय वेदमित्र की शुक्रवार को मौत हो गई थी.

वेदमित्र का शव पोस्टमार्टम के बाद उनके पैतृक गांव टिटौली जिला शामली ले जाया गया जहां उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया.

वेदमित्र सेना की इंजीनियरिंग कोर में काम करते थे और मेरठ में तैनात थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)