गुरुद्वारा परिसर में चट्टान गिरने से 7 की मौत

इमेज कॉपीरइट Ashwani Sharma

हिमाचल प्रदेश के कुल्ले ज़िले में मंगलवार को एक गुरुद्वारा परिसर में चट्टान खिसकने से सात लोग मारे गए हैं.

ये घटना मनिकरण में सिखों के एक पवित्र स्थल परिसर में हुई, जहां पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और जम्मू कश्मीर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं.

अधिकारियों का कहना है कि चट्टान खिसकने से परिसर में बहुमंज़िला 'सराय भवन' को नुक़सान हुआ, जहां श्रद्धालु आकर ठहरते हैं.

लेकिन गुरुद्वारे को कोई नुक़सान नहीं हुआ है और वो पूरी तरह सुरक्षित है.

अधिकारियों के मुताबिक मारे गए सभी लोग पंजाब से हैं.

शव बरामद

इमेज कॉपीरइट Ashwani Sharma
Image caption इस भवन दूर दूर से आए श्रद्धालु ठहरते हैं

कुल्लु के उपायुक्त राकेश कंवर ने बताया कि राहत अभियान युद्ध स्तर पर चलाया गया और सात शवों को निकाल लिया गया है.

कंवर ने बताया कि सराय भवन से सभी लोगों को हटा दिया गया है.

ये हादसा दोपहर दो बजे के आसपास हुआ. सभी घायलों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

कंवर ने बताया कि अगर ये हादसा रात में होता तो मरने वालों की तादाद कहीं ज़्यादा होती क्योंकि सराय भवन के सभी कमरों में रात को लोग ठहरे होते हैं.

पार्वती घाटी में लगातार बारिश हो रही है, जिससे हुए भूस्खलन के कारण ये हादसा हुआ.

कुछ साल पहले, बाढ़ के कारण इस गुरुद्वारे को भारी नुक़सान हुआ था और बाद में इसे फिर से बनाया गया था.

(स्थनीय पत्रकार अश्विनी शर्मा से बातचीत पर आधारित)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार