क्या-क्या होगा नए ऐपल आईफ़ोन 6एस में?

ऐपल के  वर्तमान मुख्य कार्यकारी अधिकारी, टिम कुक इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption ऐपल के वर्तमान मुख्य कार्यकारी अधिकारी, टिम कुक

9 सितंबर 2015 को भारतीय समयानुसार लगभग 11 बजे रात को ऐपल अपना नया प्रोडक्ट दुनिया के सामने पेश करेगा.

उम्मीद है कि पिछले साल की तरह स्टीव जॉब्स की कंपनी इस साल भी एक साथ दो फ़ोन लॉन्च करेगी - आईफ़ोन 6एस और आईफ़ोन 6एस प्लस.

‘सीरी’ पर टिकाएं नज़र

इमेज कॉपीरइट Apple.com

ऐपल ने अपने लॉन्च इन्विटेशन में ही स्पष्ट कर दिया है कि इस बार वह अपने ‘वर्चुअल वॉइस असिस्टेंट- सीरी’ से संबंधित कुछ नया जा रही है.

उम्मीद की जा रही है कि इस बार सीरी में कुछ ख़ास देखने को मिलेगा.

‘द वर्ज’ के अनुसार ऐपल टीवी में आवाज़ के ज़रिए फ़िल्में या प्रोग्राम ढ़ूंढ़ने में सीरी के इस्तेमाल पर ऐपल कुछ घोषणा कर सकता है.

स्क्रीन में क्या होगा ख़ास

आपको याद होगा पिछले दो सालों से ऐपल एक साथ दो फ़ोन लॉन्च करता आया है.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption ऐपल आईफ़ोन 5एस और 5सी के लांच पर फिलिप शिलर

साल 2014 में ऐपल आईफ़ोन 4.7 इंच और 5.5 इंच की स्क्रीन साइज़ में लॉन्च किए गए थे.

इन्हें ग्राहकों ने ख़ूब सराहा. ऐपल ने अप्रैल-जून तिमाही में पिछले साल की इसी अवधि के मुक़ाबले 35 प्रतिशत अधिक आईफ़ोन बेचे.

लेकिन इसी साल आईफ़ोन 6 प्लस के पॉकेट में मुड़ने की ख़बरों के बाद कंपनी को मीडिया में शर्मिंदगी झेलनी पड़ी थी.

इमेज कॉपीरइट Getty

उम्मीद है कि पिछले साल से सीख लेते हुए इस बार कंपनी बेहतर और मज़बूत आईफ़ोन बनाएगी.

प्रोसेसर में कितना दम

कंपनी ने 64-बिट प्रोसेसिंग स्पीड के साथ ए8 प्रोसेसर 2014 में ही लॉन्च किया है और यह पहले के आईफ़ोन के मुक़ाबले काफ़ी तेज़ चलता है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इस बार उम्मीद का जा रही है कि कंपनी 64-बिट प्रोसेसिंग स्पीड वाले ए9 प्रोसेसर के साथ नया फ़ोन लॉन्च करेगी. 9टू5मैक ने इस नए फ़ोन के मदरबोर्ड की लीक्ड तस्वीरें छापी हैं.

लेकिन अटकलों के अनुसार पहले की तरह 20-नैनोमीटर तकनीक से बना न हो कर यह 14 या 16 नैनोमीटर से बनाया जा सकता है. यह आईफ़ोन 6एस के ए8 प्रोसेसर की तुलना में बेहतर और तेज़ काम करेगा.

यह भी संभावना जताई जा रही है कि इस साल 1जीबी रैम की जगह कंपनी नए फ़ोन में 2जीबी रैम का इस्तेमाल करे.

इमेज कॉपीरइट Samsung
Image caption सैंमसंग गैलैक्सी एस6 फ़ोन

2012 से ऐपल आईफ़ोन में 1जीबी रैम ही पैक किया गया है, जबकि इस बीच सैंमसंग, एल जी, सोनी और अन्य कंपनियोें ने 2014 से 2जीबी, 3जीबी रैम वाले फ़ोन बाज़ार में उतारे हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

कैमरे का बात करें तो हो सकता है कि 8 मेगापिक्सल से बढ़ कर इस बार 12 मेगापिक्सल का कैमरा आईफ़ोन 6एस और 6एस प्लस में देखने को मिले.

फोर्ब्स के अनुसार यह कैमरा 4के वीडियो शूट करने में सक्षम होगा.

क्या होगा दाम?

ऐपल की आदत रही है कि जिस दाम पर पिछला हैंडसेट लॉंच किया गया हो उसी दाम पर कंपनी नया हैंडसेट लॉन्च करती है.

लेकिन रीकोड की मानें को इस बार कॉन्ट्रेक्ट पर आईफ़ोन ख़रीदना चोहने वोलों के लिए बेहद कम विकल्प होंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty

इस बार अमरीका में स्प्रिंट और वेरीज़ोन ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें दो साल के कॉन्ट्रेक्ट वाला फ़ोन बिक्री मॉडल कुछ ख़ास पसंद नहीं.

पिछले साल 16 जीबी आईफ़ोन 6एस की 5 क़ीमत दो साल के कॉन्ट्रेक्ट पर डॉलर 199 थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार