सीटों के बँटवारे पर एनडीए में असंतोष

इमेज कॉपीरइट PTI

बिहार विधानसभा चुनाव में सीटों के बँटवारे को लेकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के घटक दलों में मतभेद खुल कर सामने आ गए हैं.

शनिवार को पार्टी के बिहार चुनाव प्रभारी अनंत कुमार ने कहा था कि सहमति हो गई है और शनिवार शाम को इसकी घोषणा कर दी जाएगी.

लेकिन जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने शर्त रख दी है कि उन्हें लोक जनशक्ति पार्टी की जितनी ही सीटें चाहिए.

पार्टी के प्रवक्ता शारिम अली ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि उन्हें एलजेपी से कम सीटें नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी बिहार के स्वाभिमान की लड़ाई लड़ रही है, लेकिन अगर सीट बँटवारे में अपमान हो जाए, तो बात नहीं बनेगी.

असंतोष

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

शनिवार को लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद चिराग पासवान ने भी कहा था कि सहमति बन गई है. ऐसी तस्वीरें भी सामने आई, जिसमें राम विलास पासवान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को मिठाई खिलाते देखे जा रहे हैं.

लेकिन शाम होते-होते स्थितियाँ बदलने लगीं.

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के साथ उनकी लंबी बातचीत हुई. बातचीत के बाद बाहर निकलते समय पत्रकारों के साथ बातचीत में जीतनराम मांझी ने कहा, "बातचीत चल रही है. कल सुबह हो जाएगा."

लेकिन पार्टी के प्रवक्ता शरीम अली ने स्पष्ट तौर पर कहा, "हम उतनी ही सीटें चाहते हैं जितनी लोक जनशक्ति पार्टी को मिल रही हैं."

बीबीसी के साथ बातचीत में उन्होंने कहा, "ये हमारा आधिकारिक रुख़ है. एलजेपी के कम सीटें हमें मंज़ूर नहीं."

उम्मीद

इमेज कॉपीरइट shailendra kumar

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी के नेता जीतन राम मांझी ने पार्टी की भावना से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को अवगत करा दिया है और उन्हें उम्मीद है कि वे उचित फ़ैसला लेंगे.

ये पूछे जाने पर कि अगर भाजपा ने उन्हें उतनी सीटें नहीं दी, तो पार्टी का अगला क़दम क्या होगा, इस पर इशारों में उन्होंने कहा, "अगर सीटों के बँटवारे में अपमान हो जाएगा तो हम स्वाभिमान की लड़ाई कैसे लड़ेंगे."

शारिम अली ने कहा कि उनकी पार्टी का एलजेपी से कोई टकराव नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी का वोट शेयर ज़्यादा है इसलिए हमें तो ज़्यादा सीटें मिलनी चाहिए.

उन्होंने स्पष्ट किया कि उनकी पार्टी उस गठबंधन में नहीं जाएगी, जहाँ नीतीश कुमार रहेंगे.

शनिवार शाम को एनडीए की प्रेस कॉन्फ़्रेंस होने वाली थी. लेकिन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के घर भाजपा के नेताओं की बैठक शुरू हो गई.

बैठक में अश्विनी कुमार चौबे, सीपी ठाकुर, सुशील मोदी और नंद किशोर यादव भी पहुँचे.

इमेज कॉपीरइट SHAILENDRA KUMAR

बैठकों का दौर

बैठक के लिए वहाँ पहुँचे मंत्री और भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने कहा, "कोई नाराज़गी नहीं है. सब ठीक है. समय आने पर सब ठीक हो जाएगा."

बिहार में 12 अक्तूबर से पाँच नवंबर के बीच पाँच चरणों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव के गठबंधन ने पहले ही सीटों के बँटवारे की घोषणा कर दी है.

लेकिन एनडीए के घटक दलों में सीटों पर अब भी विचार- विमर्श का दौर जारी है.

एनडीए के घटक दलों में भाजपा के अलावा राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी, उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी और जीतनराम मांझी की हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा शामिल है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार