100वें जन्मदिन पर हुसैन को 'डूडल' सलाम

एमएफ़ हुसैन गूगल डूडल इमेज कॉपीरइट Other

सर्च इंजन गूगल ने भारत में जन्मे कलाकार एमएफ़ हुसैन को उनके 100वें जन्मदिन पर डूडल चित्र बनाकर श्रद्धांजलि दी है.

गुरुवार को मक़बूल फ़िदा हुसैन की 100वीं जन्मतिथि है. उनका जन्म महाराष्ट्र के पंढरपुर में 17 सितंबर 1915 को हुआ था.

उन्हें भारत का पिकासो भी कहा जाता है. आधुनिक चित्रकला को उन्‍होंने प्रगतिशील अर्थ दिए और बड़ा बाज़ार दिया.

हिंदू देवी-देवताओं की विवादित पेंटिंग के कारण भारत के चरमपंथी संगठनों ने उन्हें धमकी दी थी. इसलिए साल 2006 में ही वे भारत से चले गए थे और क़तर की नागरिकता ले ली थी.

इमेज कॉपीरइट AP

95 साल की उम्र में जून 2011 में लंदन के अस्पताल में उनका निधन हो गया था.

साल 2010 में बीबीसी संवाददाता राजेश प्रियदर्शी ने लंदन में उनसे विशेष बातचीत की थी.

देखिए इस बातचीत का वीडियो....

एमएफ़ हुसैन से बातचीत का पहला हिस्सा

एमएफ़ हुसैन से बातचीत का दूसरा हिस्सा

एमएफ़ हुसैन को पहली बार राष्ट्रीय स्तर पर पहचान 1940 के दशक के आख़िर में मिली. वर्ष 1947 में वे प्रोग्रेसिव आर्टिस्ट ग्रुप में शामिल हुए.

सुनिए मक़बूल फिदा हुसैन: बिसरी यादें

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत सरकार ने वर्ष 1991 में उन्हें पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया. 92 वर्ष की उम्र में उन्हें केरल सरकार ने राजा रवि वर्मा पुरस्कार दिया.

क्रिस्टीज़ ऑक्शन में उनकी एक पेंटिंग 20 लाख अमरीकी डॉलर में बिकी. इसके साथ ही वे भारत के सबसे महंगे पेंटर बन गए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार