9 माह बाद काशी में मोदी, क्या है प्लान?

इमेज कॉपीरइट AFP

शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आठ घंटे के लिए वाराणसी पहुंचेंगे. हालांकि पहले उनकी यह यात्रा पांच घंटे की होने वाली थी, लेकिन बाद में इसे आठ घंटे कर दिया गया.

वाराणसी एयरपोर्ट पर उतरने के बाद मोदी हेलीकॉप्टर से कैंट क्षेत्र में जाएंगे. यहां वो रिक्शेवालों से मुलाक़ात करेंगे और उन्हें ई-रिक्शे और सोलर रिक्शे बांटेंगे.

उसके बाद डीज़ल लोकोमोटिव वर्क्स (डीएलडब्ल्यू) जाएंगे जहां वो कुछ देर आराम करने के बाद विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलेंगे.

इसके बाद शाम को डीएलडब्ल्यू के मैदान से रिमोट के ज़रिए कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे.

इसमें बीएचयू का ट्रॉमा सेंटर, एनआईपीडी स्कीम, विद्युत उपकेंद्र और रिंग रोड जैसी परियोजनाएं शामिल हैं.

अहम है यात्रा

इमेज कॉपीरइट Getty

मोदी लंबे समय बाद अपने संसदीय क्षेत्र में आ रहे हैं, ऐसे में उनकी यात्रा को अहम माना जा रहा है.

स्थानीय पत्रकार रोशन जायसवाल कहते हैं, "मोदी जिस तरह से इस यात्रा के दौरान रिक्शेवालों को चीज़ें बांटेंगे और परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे उसे विश्लेषक और विपक्षी पार्टियां बिहार चुनाव से जोड़कर देख रही हैं."

उन्होंने बताया, "बिहार के अधिकतर ग़रीब लोग वाराणसी सहित पूर्वांचल के बाकी हिस्सों में आकर रिक्शा चलाते हैं. ऐसे में यह अनको रिझाने की कोशिश हो सकती है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार