जेएनयू में हो बीएसएफ़ का कैंप: स्वामी

सुब्रमण्यम स्वामी इमेज कॉपीरइट PTI

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी का कहना है दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में एक एंटी नारकोटिक्स ब्यूरो और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ़) का एक कैंप होना चाहिए.

स्वामी ने अपने ट्विटर हैंडल @Swamy39 पर लिखा, "जेएनयू कैंपस में छापा मारकर नक्सलियों, जिहादियों को पकड़ने के लिए बीएसएफ़ कैंप और एंटी नारकोटिक्स ब्यूरो होना चाहिए."

हाल ही में ये भी ख़बरें आईं थीं कि सरकार ने, स्वामी को जेएनयू का कुलपति (वाइस चांसलर) बनाने का प्रस्ताव दिया है.

स्वामी ने इसके जवाब में ट्वीट किया, "पेट्रियाटिक ट्विपल्स मुझे जेएनयू का कुलपति बनाने के सख्त ख़िलाफ़ हैं. मैं ये प्रस्ताव स्वीकार भी नहीं करने वाला. हां, अगर मुझे राष्ट्रविरोधी छात्रों को यूनिवर्सिटी से निष्कासित करने का अधिकार मिले तो अलग बात है."

प्रतिक्रिया

इमेज कॉपीरइट Other

स्वामी के इन ट्वीट्स के जवाब में कई लोगों ने उनका समर्थन किया है तो कई लोगों ने कड़ा विरोध भी जताया है.

@RoflGandhi नाम के यूज़र ने लिखा, "मुझे लगता है इस लिहाज से आप जेएनयू का वीसी बनने के पूरी तरह काबिल हैं. आप हमेशा ड्रग्स लिए हुए प्रतीत होते हैं और किसी भी विषय पर बड़ी-बड़ी डींगें हांक सकते हैं."

@WittyNatur ने लिखा, "वैसे तो स्वामी मानव संसाधन विकास मंत्री बनना चाहते थे. लेकिन आइडिया नेटवर्क के आईआईएन से डिग्री प्राप्त स्मृति ईरानी उनसे ज़्यादा काबिल निकलीं."

वहीं मिलिंद नाम के ट्विटर यूज़र ने लिखा, "स्वामी से बेहतर तो गजेंद्र चौहान ही साबित होंगे."

वहीं @g1mishra ने स्वामी का समर्थन करते हुए लिखा, "बिलकुल सही बात कही स्वामी ने. आज़ादी के नाम पर कई वामपंथी इस तरह की बुराइयों में लिप्त हैं."

@Maasterjee ने लिखा, "स्वामी ने जेएनयू की असल समस्या को बिलकुल ठीक तरह से पहचाना."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार