अब अम्मा ब्रांड के मोबाइल फ़ोन

जयललिता इमेज कॉपीरइट AFP

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता अब अम्मा ब्रांड के फ़ोन लेकर आई हैं.

ये 'अम्मा मोबाइल' सबसे पहले स्वयं सहायता समूहों में काम करने वाले बीस हज़ार प्रशिक्षकों को दिए जाएंगे.

जयललिता ने तमिलनाडु विधानसभा में बताया कि इन मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल बैठकों, सब्सक्रिप्शन, अंदरूनी लोन, और चुकाए गए उधार का हिसाब रखने के लिए किया जा सकेगा.

इन फ़ोन में विशेष तमिल सॉफ़्टवेयर लगाया गया है.

राज्य सरकार अम्मा मोबाइल की पहली किश्त पर पंद्रह करोड़ रुपए ख़र्च करेगी.

स्वयं सहायता समूहों के मामले में तमिलनाडु देश में सबसे आगे है. यहां क़रीब 85.76 लाख लोग स्वयं सहायता समूहों से जुड़े हैं जिनमें से 57.37 लाख ग्रामीण इलाक़ों में हैं.

इन समूहों के ज़रिए सालाना 3,374 करोड़ रुपए की बचत की जाती है.

इमेज कॉपीरइट imran qureshi bbc

जयललिता ने कहा कि 20-25 समूह एक संघ के तहत काम करते हैं और इनमें प्रतिभाशाली लोग प्रशिक्षक बन जाते हैं जो दूसरे सदस्यों को सलाह और प्रशिक्षण देते हैं.

जयललिता ने 'अम्मा कैंटीन' भी शुरू की थी जहां बेहद कम दामों पर भोजन मुहैया कराया जाता है. अम्मा मिनरल वॉटर, अम्मा सब्जी की दुकान, अम्मा फ़ार्मेसी, अम्मा सीमेंट भी पिछले सालों के दौरान बाज़ार में आ चुके हैं.

जयललिता के दोबारा सत्ता संभालने के बाद यह पहला अम्मा ब्रांड है जो पेश किया गया है.

आय से अधिक संपत्ति के मामले में एक अदालत के सज़ा देने के बाद जयललिता को मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ा था.

बाद में हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार