दादरी: 'फंसाए जा रहे निर्दोषों की मदद करेंगे'

अख़लाक़ अहमद इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बिसराड़ा गाँव के अख़लाक़ अहमद की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

भारतीय जनता पार्टी के विधायक संगीत सोम का कहना है कि उत्तर प्रदेश के दादरी इलाक़े में कथित गोमांस खाने की अफ़वाह पर हत्या के मामले में पुलिस निर्दोष युवकों को फंसा रही है.

संगीत सोम ने बीबीसी से कहा, "क़त्ल हुआ है और जो दोषी हैं वो गिरफ़्तार किए जाने चाहिए. लेकिन जिन निर्दोषों को फंसाया जा रहा है बीजेपी उनकी मदद करेगी."

उन्होंने कहा कि प्रशासन इस मामले में एकतरफ़ा कार्रवाई कर रहा है.

यूपी पुलिस ने अभी तक इस मामले में आठ युवकों को गिरफ़्तार किया है जबकि दो नामजद अभियुक्त फ़रार हैं.

पिछले दिनों गोमांस खाने की अफ़वाह के कारण अख़लाक़ की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.

इमेज कॉपीरइट Akhilesh Yadav
Image caption अख़लाक़ के परिवार ने लखनऊ में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाक़ात की है.

इस घटना में उनके बेटे दानिश बुरी तरह घायल हो गए थे. उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है.

पीड़ित परिवार ने रविवार को लखनऊ में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाक़ात की.

अनदेखी

विधायक संगीत सोम ने स्वीकार किया कि गिरफ़्तार लोगों में एक युवक ज़िले के पूर्व भाजपा अध्यक्ष का बेटा है.

संगीत सोम ने घटना के बाद एक प्रदर्शन के दौरान पुलिस फ़ायरिंग में घायल राहुल यादव नाम के युवक की अनदेखी किए जाने का सवाल उठाते हुए कहा कि यूपी सरकार उसकी कोई मदद नहीं कर रही है.

रविवार को संगीत सोम और अन्य बीजेपी नेताओं ने राहुल के परिवार से मुलाक़ात की और आर्थिक मदद दी.

Image caption उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतक अख़लाक़ के परिवार को 45 लाख की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है.

संगीत सोम यूपी के ही मेरठ के सरधना से विधायक हैं और मुज़फ़्फ़रनगर दंगों के अभियुक्त भी हैं.

उन्होंने कहा, "सरकार ने अख़लाक़ के परिवार की मदद की. हमारा इससे कोई विरोध नहीं है. लेकिन राहुल के परिवार की पूरी तरह अनदेखी की जा रही है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार