काशीनाथ सिंह भी लौटाएंगे अकादमी पुरस्कार

काशीनाथ सिंह इमेज कॉपीरइट roshan jaiswal
Image caption हिंदी के वरिष्ठ लेखक काशीनाथ सिंह

प्रसिद्ध साहित्यकार काशीनाथ सिंह ने अपना साहित्य अकादमी पुरस्कार लौटाने का ऐलान किया है.

काशीनाथ सिंह ने बताया कि साहित्यकारों की हत्या, दादरी की घटना और साहित्यकारों के सम्मान वापसी पर मंत्रियों के बयान से वो क्षुब्ध हैं.

काशीनाथ सिंह को साहित्य अकादमी पुरस्कार साल 2011 में "रेहन पर रग्घू" नामक किताब के लिए मिला था.

हाल में बहुत सारे लेखकों ने देश में बढ़ रही असहिष्णुता के ख़िलाफ़ या तो अवॉर्ड वापस किए हैं या अहम सरकारी संस्थाओं से नाता तोड़ा है.

बेतुके बयानों से व्यथित

इमेज कॉपीरइट roshan jaiswal
Image caption मंत्रियों के बेतुके बयानों से क्षुब्ध हैं काशीनाथ सिंह

काशीनाथ सिंह ने पुरस्कार और उसके साथ मिली एक लाख रुपए की धनराशि 23 अक्टूबर से पहले वापस करने का ऐलान किया है.

काशीनाथ सिंह एक प्रख्यात साहित्यकार हैं जिनके लिखित उपन्यास 'काशी का अस्सी' पर आधारित फ़िल्म 'मोहल्ला अस्सी' हाल ही में आयी थी जो रिलीज़ होने से पहले ही विवादों में घिर गई.

काशीनाथ सिंह 'काशी का अस्सी', 'घर का जोगी-जोगड़ा', 'रेहन पर रग्घू', 'सदी का सबसे बड़ा आदमी' और 'अपना मोर्चा' जैसी प्रसिद्ध कृतियों के लेखक हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार