अकाल तख़्त के पंज प्यारे निलंबित

इमेज कॉपीरइट RAVINDER ROBIN

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने श्री अकाल तख़्त के पंज प्यारों को दफ़्तरी नियमों और परंपराओं के ख़िलाफ़ काम करने के लिए निलंबित कर दिया है.

पंज प्यारों ने बुधवार को पांच मौजूदा जत्थेदारों को राम रहीम को दिए 'माफ़ीनामे' और फिर उसे वापस लिए जाने के मुद्दे पर स्पष्टीकरण देने के लिए 23 अक्टूबर को हाज़िर होने को कहा था.

एसजीपीसी ने कहा कि जत्थेदारों को तलब करने के फ़ैसले से पंथ में और भ्रम की स्थिति पैदा होगी.

एसजीपीसी के सचिव डॉक्टर रूप सिंह और मंजीत सिंह को प्रशासकीय नाकामी के लिए निलंबित किया गया है.

Image caption डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख की चिट्ठी

कुछ दिन पहले अकाल तख़्त की बैठक में कहा गया था कि डेरा प्रमुख ने माफ़ी मांगी है, जिसे मंज़ूर कर लिया गया.

जत्थेदारों ने बाद में अपने ही हुक्मनामे को ख़ारिज कर दिया. जत्थेदार गुरबचन सिंह ने कहा था कि इस विषय पर गंभीर चर्चा और घटनाओं का अध्ययन करने के बाद वे इस नतीजे पर पहुंचे कि गुरु पंथ हुक्मनामे को स्वीकार नहीं करता और उसे अब ख़ारिज किया जाता है.

ये हुक्मनामा अकाल तख़्त से 24 सितंबर को जारी किया गया था.

इमेज कॉपीरइट RAVINDER SINGH ROBIN

माफ़ीनामे में जत्थेदारों ने उन्हें ये हिदायत दी थी कि राम रहीम ऐसा कोई काम न करें, जिससे सिखों की भावनाएं आहत होती हों.

गुरमीत राम रहीम कई बार विवादों में रहे हैं. साल 2007 में उनकी एक तस्वीर छपी, जिसमें वे सिखों के 10वें गुरु गोविंद सिंह की वेशभूषा में थे और उनके जैसे ही दिख रहे थे.

इसके बाद सिखों और डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों में हिंसक झड़पें भी हुईं थीं. इनमें सैकड़ों लोग जख़्मी हुए थे और एक शख़्स की मौत हो गई थी.

डेरा सच्चा सौदा की 35 शाखाएं हैं और इसका दावा है कि इसके कई लाख समर्थक पंजाब और हरियाणा में हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

राम रहीम को माफ़ी दिए जाने के बाद सिख समाज के कई वर्गों में गुस्सा था. उनका कहना था कि पांच जत्थेदारों ने गुपचुप तरीके से ही मामला निपटा लिया और पूरे पंथ को विश्वास में नहीं लिया गया.

अमरीकी गुरद्वारा प्रबंधक समिति के अध्यक्ष ने भी साझा बयान में कहा था कि इस माफ़ीनामे को स्वीकार किए जाने से वे अचरज में हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार