गीता अपने परिवार की पहचान नहीं कर पाई

भारत लौटी गीता इमेज कॉपीरइट MEAIndia

पाकिस्तान से भारत लौटी गीता बिहार के उस जनार्दन महतो के परिवार को नहीं पहचान पाई हैं, जो उसे अपनी बेटी बता रहा है.

दिल्ली आने के बाद भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद गीता काफ़ी ख़ुश थीं और उन्होंने कहा कि उनका भारत में बहुत प्यार भरा स्वागत हुआ.

गीता के हिचकिचाने पर सुषमा स्वराज ने कहा कि गीता ने अपनी शादी और बच्चा होने की बात से इनकार किया है.

सुषमा में कहा कि गीता ने बताया है कि जब वो पाकिस्तान गई थीं तो वो काफी छोटी थीं, इसलिए शादी और बच्चे का सवाल ही नहीं उठता.

महतो परिवार के मुताबिक गीता की शादी हुई थी और उसका एक बच्चा भी है.

इमेज कॉपीरइट Getty

सुषमा स्वराज ने कहा कि अभी गीता के परिवार के बारे में कोई फ़ैसला करने से पहले डीएनए टेस्ट का इंतज़ार किया जा रहा है.

दरअसल बिहार, उत्तर प्रदेश और झारखंड तीनों प्रदेशों से अलग अलग परिवार पकिस्तान में मिली गीता को अपने परिवार की सदस्य बता रहे हैं.

इसके अलावा सुषमा स्वराज ने गीता को भारत वापस लाने के लिए पाकिस्तान और संस्था ईधी फ़ाउंडेशन के अधिकारियों का धन्यवाद किया.

पाकिस्तान में गीता ईधी फ़ाउंडेशन नामक सामाजिक संस्थान में रह रही थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार