'भाजपा की वजह से मेरा वजन आधा हो गया'

अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष इमेज कॉपीरइट SHAILENDRA KUMAR

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार की चुनावी रैली में दिए बयान कि अगर बिहार चुनाव में भारतीय जनता पार्टी हारी तो पाकिस्तान में पटाखे चलेंगे, बहुत से लोगों ने बीबीसी के फ़ेसबुक पेज़ पर प्रतिक्रिया दी है.

संदीप जैन ने लिखा है, ''पहले मैं मोटापे से बहुत परेशान था. लाख कोशिश के बाद भी वजन कम नहीं हुआ, फिर मेरे दोस्तों ने मुझे बीजेपी को वोट देने की सलाह दी. आज मेरा वजन आधा रह गया है, महंगाई की वजह से भरपेट नहीं खा पा रहा हूँ. धन्यवाद भारतीय जनता पार्टी.''

अमित कुमार लिखते हैं, ''किसान का बेटा हूं, ख़ुद खेत में जुता हुआ हूं. दाल की क़ीमत की वजह से मेरे बाबूजी खुश हैं और पूरे खेत में दलहनी फसल लगा रहे हैं.''

दानिश अंसारी ने अपनी प्रतिक्रिया इस तरह जताई है, ''बिहार में बीजेपी की हार का मतलब देशवासियों की जीत. लोग जुमला सुन-सुन के पक चुके हैं. थोड़े भक्त हैं, वह भी अब समझने लगे हैं.''

शेख मुहम्मद मुख़्तार अली ने लिखा, ''भारत गांवों का देश है. यहां के 60 फ़ीसदी लोग मज़ूदर हैं. मज़दूरों का पेट पोजीशन से नहीं भरता, खाने से भरता है. इसे बीजेपी ने थाली से गायब कर दिया है.''

ट्विटर पर भी लोगों ने अमित शाह के बयान पर प्रतिक्रिया दी है.

सुप्रिया शर्मा (@sharmasupriya) ने ट्वीट किया, ''मोदी-शाह की यही रणनीति है, कुछ कारगर न हो तो मुस्लिमों पर दोष मढ़कर लोगों का ध्यान बंटा दो, पाकिस्तान को कोसो."

मरवी सरमद (@marvisirmed) ने ट्विटर पर लिखा, "शाह ने पाकिस्तान का इस्तेमाल दबाव बनाने के लिए किया है."

प्रियदर्शी (@MajChowdhury) ने ट्वीट किया, "भाजपा बिहार चुनाव हारेगी तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे. भारत में क्यों नहीं? प्रोपेगैंडा की हद होती है."

सम्राट (@SamraatD) ने प्रतिक्रिया जताते हुए ट्वीट किया, "शाह से इससे अधिक उम्मीद नहीं की जाती है. उनकी पहले की छवि ही सब कुछ बता देती है."

सलिल त्रिपाठी (@saliltripathi) ने ट्विटर पर लिखा, ''ऐसा लगता है मानो शाह कह रहे हों कि पाकिस्तानियों की समझ अच्छी है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार