अब मूर्तियां नहीं बनवाएंगी मायावती

मायावती इमेज कॉपीरइट PTI

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी प्रमुख मायावती ने भविष्य में और कोई मेमोरियल या म्यूज़ियम बनाने से इनकार किया है.

उनका कहना है कि अब वो राज्य में विकास और कानून व्यवस्था पर ज़ोर देंगी.

मुख्यमंत्री के रूप में मायावती का पिछला कार्यकाल पार्कों और मेमोरियल के निर्माण की वजह से काफी विवादों में रहा. इसमें लखनऊ और नोएडा में बने विशाल पार्क शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

विरोक्षी दलों ने उनकी सरकार पर 40 हज़ार करोड़ रूपये की धोखाधड़ी का भी आरोप लगाया.

ये पैसा राज्य सरकार की ओर से हाथियों की मूर्तियां और दूसरे मेमोरियल बनाने पर कथित रूप से खर्च किए गए.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक जब मायावती से पूछा गया कि उत्तर प्रदेश में क्या यही उनके हार की वजह थी तो उन्होंने कहा कि मिशन पूरा हो गया है, अब वो और कोई मेमोरियल या म्यूज़ियम नहीं बनवाएंगी.

मायावती ने कहा,’’सत्ता में वापसी हुई तो मैं विकास और कानून व्यवस्था पर ध्यान दूंगी.’’

बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा कि वो ये तय करेंगी कि सभी ‘’गुंडा’’ तत्व सलाखों के पीछें हों.

पूर्व मुख्यमंत्री का यह भी कहना है कि भले ही उनकी पार्टी हार गई हो लेकिन उनके वोटों की हिस्सेदारी कायम है.

मायावती ने केंद्र सरकार की यह कहकर आलोचना भी की है कि वो सीबीआई का इस्तेमाल उनके खिलाफ कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार