लालू, अमित शाह को चुनाव आयोग का नोटिस

अमित शाह इमेज कॉपीरइट AFP

चुनाव आयोग ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद के खिलाफ़ कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बिहार में रक्सौल की चुनावी सभा में कहा था कि अगर बिहार में उनकी पार्टी हार गई तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे. बाद में यही बात उन्होंने बेतिया की चुनावी सभा में भी दोहराई थी.

चुनाव आयोग ने इसे पहली नज़र में आचार संहिता का उल्लंघन माना है.

इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi

आयोग की तरफ़ से जारी नोटिस में कहा गया है, ''आयोग की प्रथम दृष्ट्या ये राय है कि इस तरह का बयान दे कर...जिसमें सद्भाव को बिगाड़ने और धार्मिक, सामाजिक समुदायों के बीच पहले से मौजूद विवादों को बढ़ाने की क्षमता है, आपने आचार संहिता का उल्लंघन किया है.''

आयोग ने राहुल गांधी के उस बयान पर नोटिस भेजा है जिसमें उन्होंने कहा था,''इनका प्लान बी क्या है, एक हिंदुस्तानी को दूसरे हिंदुस्तानी से लड़ाओ, जहां भी जाते हैं, यूपी में, महाराष्ट्र में, हरियाणा में जहां भी चुनाव होता है, इनकी सेना जाती है, हिंदू को मुसलमान से लड़ाते हैं.''

इमेज कॉपीरइट PTI

इन दोनों के अलावा आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद को भी नोटिस भेजा गया है. आयोग ने उनके इस बयान को आपत्तिजनक माना है, ''अमित शाह नरभक्षी जो है भाजपा का अध्यक्ष है, ये बिल्कुल पगला गया है.''

चुनाव आयोग ने याद दिलाया है कि आचार संहिता के प्रावधान किसी भी पार्टी या उम्मीदवार को इस तरह की हरकत से रोकते हैं, जिसका असर धार्मिक, जातीय या भाषाई समुदायों के बीच किसी भी तरह के मौजूदा विवादों या आपसी सौहार्द्र को बिगाड़ने और नफ़रत बढ़ाने में हो सकता है.

चुनाव आयोग ने अमित शाह, राहुल गांधी और लालू प्रसाद को चार नवंबर दोपहर तीन बजे तक अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार