पासवर्ड मैनेजर का सहारा अब हो गया है ज़रूरी

इमेज कॉपीरइट AP

जीमेल, याहूमेल, हॉटमेल, फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, फ़्लिकर, लिंक्डइन, ग्लास्सडोर, नौकरी, मॉन्स्टर, ड्रॉपबॉक्स... ऑनलाइन दुनिया में ये तो सिर्फ़ कुछ वेबसाइट्स हैं. जहां आम लोगों को लॉग-इन करके अपना काम करना होता है. कई लोगों के पास एक से ज़्यादा वेब ईमेल भी होते हैं.

इसके अलावा ऑफ़िस के ईमेल, बैंक, क्रेडिट कार्ड और बीमा कंपनियों की वेबसाइट्स, एटीएम और फ़ोन बैंकिंग के पिन. बैंक में लॉग इन करने के लिए एक और ट्रांसक्शन पूरा करने के लिए अलग पासवर्ड होता है. भला आम आदमी का दिमाग इतने सारे पासवर्ड और पिन कैसे याद रख सकता है?

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

अब कई लोग अपने स्मार्टफ़ोन का इस्तेमाल बैंकिंग और दूसरे लेन-देन के लिए कर रहे हैं इसीलिए आपके लिए पासवर्ड मैनेजर रखना अब ज़रूरी हो गया है. कौन से पासवर्ड मैनेजर आपके काम आ सकते हैं आइए उनके बारे में बताते हैं. बस एक पासवर्ड याद रखें.

Lastpass- पासवर्ड मैनेजर की दुनिया में ये सबसे जाना माना नाम है. इसका काम करने का तरीका सुनने में काफी आसान लगता है. आपके जो भी पासवर्ड हैं उन्हें ये एन्क्रिप्ट करके रखता है. आपका अपना जो पासवर्ड है बस उसे याद कर लेने की ज़रुरत है. ये याद रखना ज़रूरी है क्योंकि ये आपको दूसरे पासवर्ड तक पहुंचने की इजाज़त देता है. आपके सभी डेस्कटॉप और ब्राउज़र के लिए लास्ट पास फ्री है लेकिन अगर आपको मोबाइल ऐप चाहिए तो उसके लिए साल के 750 रुपये देने पड़ेंगे.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

KeePaasToAndroid- एंड्रॉयड इस्तेमाल करने वालों में ये काफी पसंद किया जाता है. चूंकि ये फ्री है इसलिए भी ये काफी लोकप्रिय है. लास्ट पास की तरह ही इसके लिए भी आपको मास्टर पासवर्ड रखना पड़ेगा जिसके इस्तेमाल से आप दूसरे पासवर्ड तक पहुंच सकते हैं. इसमें आपको पासवर्ड जनरेटर मिलेगा जिसके बाद आप कुछ वेबसाइट के लिए बेझिझक आपके पासवर्ड एंटर कर सकते हैं. अगर आप चाहें तो गूगल ड्राइव या ड्रॉपबॉक्स के साथ इसको सिंक्रोनाइज़ कर सकते हैं ताकि आपको लॉग इन करने में आसानी हो.

mSecure- विंडोज़, एंड्रॉयड, iOS सभी के साथ काम करने वाला mSecure को आप अपने स्मार्टफोन पर इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए सालाना करीब 650 रुपए खर्च करने होंगे. इस ऐप का कोई फ्री वर्जन बाज़ार में नहीं है उसके बाद भी ये काफी पसंद किया जाता है. अगर आपका स्मार्टफोन खो जाता है तो mSecure आपके स्मार्टफोन से डेटा को डिलीट करने में मदद करता है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

1Password- इसके फीचर कुछ दूसरे पासवर्ड मैनेजर के जैसे ही हैं और ये विंडोज़, एंड्रॉयड, iOS सभी के साथ काम करता है. अगर आप इसे इस्तेमाल करना चाहते हैं तो 30 दिन के फ्री ट्रायल में इसको अच्छी तरह से जांच सकते हैं. ट्रायल का समय ख़त्म हो जाने के बाद आपको करीब 300 रुपये खर्च करके इसे खरीदना पड़ेगा.

आजकल सिक्योरिटी को लेकर जितना बवाल मचा हुआ है उसे देखते हुए लगता है कि पासवर्ड मैनेजर आपके लिए ज़रूरी है. हो सकता है कि एक दिन पासवर्ड ज़रूरी नहीं होगा जब आप अपनी उँगलियों के निशान से काम चला लेंगे. लेकिन तब तक पासवर्ड मैनेजर का सहारा ज़रूरी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)