पूर्व एनएसए एमके नारायणन पर चप्पल फेंकी

पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एमके नारायणन

चेन्नई में बुधवार शाम एक कार्यक्रम के दौरान पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल एमके नारायणन पर एक एलटीटीई समर्थक ने चप्पल फेंक दी.

'द हिंदू' अख़बार के प्रकाशक कस्तूरी एंड संस के चेयरमैन एन राम ने बीबीसी हिंदी से कहा, "भाग्यवश वो एक कठोर चप्पल नहीं थी. वो उनके सर के पिछले हिस्से पर लगी और मेरे हाथों में गिर गई."

जिस वक़्त नारायाणन पर चप्पल फेंकी गई वो श्रीलंका के तमिलों के मुद्दे पर चर्चा के बाद मंच से उतर रहे थे.

Image caption चप्पल फेंकेने वाले व्यक्ति को तमिल प्रवासी बताया जा रहा है.

चप्पल फेंकने वाले व्यक्ति का नाम प्रभाकरण बताया जा रहा है. वे श्रीलंकाई तमिल प्रवासी हैं.

प्रभाकरण 'मई 17 समूह' नाम की एक संस्था से जुड़े बताए जा रहे हैं. ये संस्था श्रीलंका में एलटीटीई के ख़िलाफ़ भारत के रुख़ के लिए एमके नारायणन को ज़िम्मेदार मानती है.

इस घटना के बाद प्रभाकरण को पुलिस अपने साथ ले गई.

एन राम ने कहा कि पुलिस ने सुरक्षा की बेहतर व्यवस्था की थी. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए न्यौता ज़रूरी था. संबंधित व्यक्ति किसी तरह दाख़िल होकर दूसरी लाइन में बैठ गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)