24 और फ़िल्मकारों ने अवार्ड लौटाए

Image caption मशहूर फिल्म 'जाने भी दो यारो'के फिल्म निर्देशक कुंदन शाह ने भी पुरस्कार लौटाया.

भारत में कथित बढ़ती असहनशीलता और पुणे फ़िल्म संस्थान के हड़ताल कर रहे छात्रों के समर्थन में 24 और फ़िल्मकारों ने अपने पुरस्कार वापिस कर दिए हैं.

इससे पहले मशहूर बुद्धिजीवी अरुंधति राय ने भी पुरस्कार लौटाने की घोषणा की थी.

गुरूवार को मुंबई प्रेस क्लब में फ़िल्म संस्थान द्वारा आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में इन फ़िल्मकारों ने कहा कि बढ़ती धार्मिक असहनशीलता पर सरकार के रवैए के विरोध में उन्होंने ये फ़ैसला लिया है.

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption अनवर जमाल (दाएं से दूसरे), नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी, मनोज बाजपेयी और सुधीर मिश्रा के साथ.

फ़िल्मकारों ने ये भी कहा कि पुणे फ़िल्म संस्थान के हड़ताल कर रहे छात्रों के समर्थन में जब कुछ फ़िल्मकारों ने पुरस्कार लौटाए थे तो सरकार का रवैया उनके ख़िलाफ़ ही रहा.

पुरस्कार लौटाने वाले फ़िल्मकारों में मशहूर फ़िल्म निर्देशक और निर्माता कुंदन शाह, सईद मिर्ज़ा, संजय काक, प्रदीप किशन, तपन बोस, अनवर जमाल, मधुश्री दत्ता, अमिताभ चक्रवर्ती के नाम शामिल हैं.

उधर कलाकारों की इस अवार्ड वापसी के जवाब में बीजेपी भी खुल कर सामने आ गई है.

इमेज कॉपीरइट Mike Thomson

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने गुरूवार को ही दिल्ली में प्रेस कांफ़्रेस कर कहा कि सरकार की छवि को ख़राब करने की कोशिश की जा रही है.

नायडू ने कहा कि कुछ लोग देश में ग़लत प्रचार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग दुनिया भर में भारत की प्रतिष्ठा को ख़राब करने का प्रयास कर रहे हैं.

इस मौक़े पर भाजपा ने एक किताब भी रिलीज़ की.

नायडू के अनुसार अवार्ड लौटाने के बाद देश भर में जो चर्चा शुरू हुई है उस पर ये किताब एक दूसरा पक्ष उजागर करती है.

अवार्ड लौटाने वालों के बारे में नायडू ने कहा कि इन लोगों की कोशिश है कि वे सरकार के विकास के एजेंड से ध्यान हटा दें.

इमेज कॉपीरइट PIB

उन्होंने आगे कहा, "लेकिन हम चाहते हैं कि जनता को सच का दूसरा पहलू भी पता चले."

इस मौक़े पर वेंकैयानायडू ने कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टी को भी 'राजनीतिक असहनशीलता' के लिए जम कर कोसा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार