मुंबई 26/11 हमलों में हेडली को समन

मुंबई हमले, ताज होटल

मुंबई की एक अदालत ने पाकिस्तानी मूल के अमरीकी चरपमंथी डेविड कोलमैन हेडली को मुंबई के 26/11 हमले का अभियुक्त बनाने की पुलिस की अर्ज़ी मंज़ूर कर ली है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार लश्कर-ए-तैयबा के चरमपंथी हेडली को मुंबई की अदालत ने समन जारी कर दिसंबर 10 को वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के ज़रिए हाज़िर होने को कहा है.

मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए हमलों में लगभग 170 लोग मारे गए थे. भारत ने एक पाकिस्तानी हमलावर अज़मल कसाब को पकड़ लिया था, जिसे बाद में फांसी दे दी गई.

हेडली अमरीकी सुरक्षा एजेंसियों और अदालत के सामने पहले ही स्वीकार कर चुका है कि उसने कई बार मुंबई का दौरा किया था और ये दौरे मुंबई हमलों की योजना से जुड़े थे. इस मामले में एक अमरीकी अदालत ने उसे 35 साल कैद की सज़ा सुनाई थी.

विशेष सरकारी वकील उज्जवल निकम ने अक्तूबर 8 को अदालत में एक अर्ज़ी डालकर निवेदन किया था कि इस केस में हेडली पर अबु जुंदाल के साथ मामला चलाया जाए क्योंकि बतौर अमरीकी नागरिक उस पर चरपमंथी संघर्ष के लिए भारतीय कानून के तहत मुक़दमा नहीं चलाया गया था.

इस मामले में जमात-उद-दावा प्रमुख हाफ़िज़ सईद समेत कई अभियुक्त अब भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार