मुंबई: सहपाठी के साथ गैंगरेप

फ़ाइल फोटो

मुंबई में एक सनसनीखेज़ मामले में पुलिस ने चार स्कूली छात्रों को सहपाठी छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार के आरोप में गिरफ़्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक़ सामूहिक बलात्कार का यह सिलसिला आठ नवंबर को शुरू हुआ और तब से लगातार चल रहा था.

मामला बुधवार को उजागर हुआ, जिसके बाद चारों आरोपियों को गिरफ़्तार किया गया. सभी आरोपी 15 से 16 साल की उम्र के हैं.

मलाड पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शशांक सांडभोर ने बीबीसी को बताया, ''ये चारों आरोपी पीड़ित लड़की के स्कूल में सहपाठी हैं. वो अक्सर एक साथ पढ़ाई करते थे. इस वजह से एक-दूसरे के घर आना-जाना था. इस महीने की आठ तारीख को इनमें से एक अभियुक्त ने लड़की को फ़ोन कर पढ़ाई की समस्या हल करने के लिए अपने घर बुलाया. और वहाँ अपने दोस्तों के साथ मिलकर सामूहिक बलात्कार किया.''

अभियुक्तों ने इस घटना की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की. सांडभोर के मुताबिक़, ''इस रिकॉर्डिंग को सोशल मीडिया पर चलाने की धमकी देकर उन्होंने लड़की के साथ कई बार बलात्कार किया. साथ ही साथ वीडियो उन्होंने व्हाट्स ऐप पर भी डाल दिया.''

इमेज कॉपीरइट Think Stock

उन्होंने बताया, आरोपी ने पीड़ित को तब घर बुलाया, जब उसके घर कोई नहीं था. वहां उसने अपने तीन दोस्तों को भी बुला रखा था, जो इन्हीं के साथ स्कूल में पढ़ते हैं और उसी इलाक़े में रहते हैं.

पुलिस के मुताबिक़ पीड़ित लड़की के पिता की मौत हो चुकी है और माँ विदेश में नौकरी करती हैं. लड़की मुंबई में अपनी नानी, बहन और मौसी के साथ रहती है.

पुलिस का कहना है कि व्हाट्सऐप पर डाला गया वीडियो वायरल होने के बाद लाखों लोगों के पास पहुँच गया. इसी तरह यह वीडियो बुधवार को पीड़ित लड़की की मौसी को मिला. वीडियो देखकर वह चौंक गईं और लड़की से इस बारे में बात की. पुलिस का कहना है कि लड़की ने इस पर सारी हक़ीकत बयान कर दी.

इसके बाद लड़की की मौसी ने तुरंत मलाड पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. जिसके बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 376 (जी) और प्रोटेक्शन ऑफ़ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्शुअल ऑफ़ेंस क़ानून के तहत एफ़आईआर दर्ज की और चारों लड़कों को गिरफ़्तार कर लिया.

सांडभोर के मुताबिक़, ''चारों आरोपियों को अदालत में पेश किया गया जिसके बाद उन्हें डोगरी के बाल सुधारगृह में भेज दिया गया है. मामले की जाँच अभी चल रही है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार