आप का लोकपाल तो है 'जोकपाल': प्रशांत भूषण

प्रशांत भूषण इमेज कॉपीरइट PTI

आम आदमी पार्टी के पूर्व सदस्य और वकील प्रशांत भूषण हाल ही में दिल्ली कैबिनेट के पास किए गए लोकपाल बिल के विरोध में सामने आए हैं.

प्रशांत ने लोकपाल को 'आप को जोकपाल' कहा है. भूषण की आलोचनाओं को खारिज करते हुए दिल्ली के सत्तारुढ दल ने कहा कि क्या प्रशांत भूषण अब भाजपा के प्रवक्ता बन गए हैं?

आम आदमी पार्टी ने ट्विटर पर कहा है कि पार्टी इस मसौदे के हर अनुच्छेद कर बहस करेगी जिसके बाद ही इसे पास किया जाएगा.

उन अनुच्छेदों पर चर्चा होगी जो 2014 में पेश किए गए लोकपाल में थे, जब 49 दिन की सरकार ने यह बिल पेश किया था और प्रशांत भूषण ने इस पर खुशी जताई थी.

इससे पहले, प्रशांत भूषण ने आरोप लगाया कि यह नया मसौदा लोकपाल की मूल भावना के साथ धोखाधड़ी है. उन्होंने कहा कि यह मसौदा बनाया ही ऐसा गया है कि उपराज्यपाल ही इसे नकार दें और केंद्र सरकार पर कोई दोष न लगाया जा सके.

इमेज कॉपीरइट Other

प्रशांत के पिता और पूर्व क़ानून मंत्री शांतिभूषण ने कहा कि यह जोकपाल लोगों और भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के लिए धोखा है और ‘जनता पार्टी के इमरजेंसी लगाने के समान है.’

प्रशांत ने स्वराज अभियान की वेबसाइट पर बताया है कि प्रस्तावित लोकपाल क्यों और किस प्रकार से जनता कि साथ किया गया एक ‘भद्दा मज़ाक’ है. हालाँकि प्रस्तावित विधेयक का मसौदा अभी तक सार्वजनिक नहीं हुआ है.

आम आदमी पार्टी के कुछ नेताओं ने इन आरोपों के जवाब में सामने आए हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

‘आप’ के दिलीप पांडे ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ऐसा लग रहा है जनलोकपाल की भ्रूणहत्या की कोशिश कर प्रशांत जी #BJP के साथ खड़े हो गए. IAC के समय केंद्र सरकार लोकपाल के दायरे में ठीक, अब नहीं ?’’

इमेज कॉपीरइट Other

पार्टी के ही आशुतोष ने लिखा, "अरूण जेटली के इशारे पर पहले चुनाव हरवाना चाहा, अब लोकपाल हड़पना चाहते हैं? क्यों? देश देख रहा है और इतिहास भी !"

18 नवंबर को कैबिनेट की बैठक में जन लोकपाल बिल पास किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Other

मनीष सिसौदिया ने ट्वीट पर जानकारी दी है कि प्रस्तावित विधेयक को 30 नवंबर को दिल्ली विधानसभा में पेश किया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार