चेन्नई से राहत कार्यों के लिए उड़ान शुरू

इमेज कॉपीरइट AP

बारिश से जूझ रहे चेन्नई हवाई अड्डे पर शनिवार से राहत कार्यों के लिए उड़ानें शुरू हो गई हैं. हालांकि अभी व्यावसायिक उड़ानें शुरू होने में कुछ और दिन लगेंगे.

नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री महेश शर्मा ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, ''हम व्यावसायिक उड़ानें अभी शुरू नहीं कर पा रहे क्योंकि एयरपोर्ट के निचले तल में अभी भी पानी भरा है और इमारत में बिजली पूरी तरह बहाल नहीं हो पाई है. अभी एयरपोर्ट के पूरी तरह काम करने में कम से कम दो-तीन दिन लगेंगे.''

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने बताया कि आईएनएस राजाली नौसैनिक अड्डे से चार व्यावसायिक उड़ानें की गई हैं. इंडिगो की दो और स्पाइसजेट और ट्रूजेट की उड़ानों के ज़रिए 310 लोगों को निकाला गया है.

इस बीच चेन्नई एयरपोर्ट पर खड़े एयर इंडिया के दो विमान दिल्ली लौट आए हैं. पानी भरने की वजह से अलग-अलग एयरलाइनों के 34 विमान वहां फंसे थे.

इमेज कॉपीरइट AP

जलभराव की वजह से एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया ने रविवार तक चेन्नई एयरपोर्ट से उड़ानें स्थगित की थीं. गुरुवार को उसे तकनीकी और राहत उड़ानों के लिए ठीक माना गया.

इमेज कॉपीरइट AP

अमूमन चेन्नई एयरपोर्ट पर 320 उड़ानें रोज़ आती और जाती हैं और क़रीब 20 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें होती हैं.

इसके अलावा बारिश और बाढ़ में फंसे लोगों को निकालने के लिए शुक्रवार को चेन्नई से तमिलनाडु के दूसरे हिस्सों के लिए खास ट्रेनें शुरू की गई हैं. दक्षिण रेलवे चेन्नई से मदुरै, तिरुचिरापल्ली, तिरुचेंदूर, कराइकाल और तिरुनेलवेली के लिए ट्रेन चला रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार