डिप्टी गवर्नर ने अफ़ग़ान राष्ट्रपति को फ़ेसबुक पर लिखा पत्र

तालिबान लड़ाके इमेज कॉपीरइट AP

अफ़ग़ानिस्तान में चरमपंथी संगठन तालिबान के साथ लड़ाई में दो दिनों में सुरक्षा बलों के 90 जवान मारे गए हैं.

हेलमंद प्रांत के डिप्टी गवर्नर मोहम्मद जान रसूलयार ने फ़ेसबुक के ज़रिए राष्ट्रपति को लिखे पत्र में इसकी पुष्टि की है.

उन्होंने कहा कि प्रांत में सुरक्षा की स्थिति बहुत खराब है और राष्ट्रपति को तुरंत हस्तक्षेप करना चाहिए.

रसूलयार ने कहा कि तालिबान ने तीन ज़िलों पर क़ब्ज़ा कर लिया है और गिरिश्क तथा संगीन ज़िलों पर भी ख़तरा मंडरा रहा है.

उन्होंने शिकायत की कि उन्हें अफ़ग़ान सुरक्षा बलों और विदेशी फ़ौजों से कोई मदद नहीं मिल रही है.

रसूलयार ने कहा कि वह अच्छी तरह जानते हैं कि फ़ेसबुक के ज़रिए यह पत्र पढकर राष्ट्रपति गुस्सा करेंगे लेकिन उनके पास कोई दूसरा चारा नहीं है.

इमेज कॉपीरइट EPA

उन्होंने कहा कि सरकारी माध्यम से इसे भेजने से इसका असली मकसद कहीं गुम हो जाएगा.

हेलमंद में सुरक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बीबीसी से बातचीत में सुरक्षा बलों के हताहत होने की पुष्टि की लेकिन साथ ही कहा कि वह सही संख्या नहीं बता सकते.

अफ़ग़ानिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता सेदिक सेद्दिकी ने बीबीसी से कहा कि वह मारे गए सुरक्षाकर्मियों की संख्या नहीं बता सकते लेकिन कुछ घंटों में इस बारे में बयान जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि लड़ाई में दोनों पक्षों को नुक़सान पहुंचा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार