आडवाणी की तरह जेटली भी बेदाग़ निकलेंगे: मोदी

अरुण जेटली इमेज कॉपीरइट Reuters

दिल्ली हाई कोर्ट ने वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से दायर मानहानि के मुक़दमे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के पाँच नेताओं को नोटिस जारी किया है.

आप नेताओं को जवाब देने के लिए तीन हफ़्तों का समय दिया गया है. मामले की अगली सुनवाई पाँच फ़रवरी को होगी.

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है, "जिस तरह आडवाणी हवाला मामले में बेदाग़ निकले थे उसी तरह जेटली भी बेदाग़ निकलेंगे."

मोदी ने ये बात भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली में हुई संसदीय दल की बैठक में कही.

जेटली ने सोमवार को दिल्ली हाई कोर्ट में आप नेताओं पर मानहानि का मुक़दमा दर्ज कराया था. उन्होंने पटियाला हाऊस में भी केस दर्ज कराया.

जेटली ने आप नेताओं पर ग़लतबयानी के आरोप लगाए हैं और अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह, कुमार विश्वास, राघव चड्ढा, आशुतोष और दीपक बाजपेई से दस करोड़ रूपये का हर्जाना मांगा है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

उधर दिल्ली सरकार ने दिल्ली क्रिकेट एसोशिएसन और सीबीआई छापों पर चर्चा के लिए मंगलवार को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है.

केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, "दिल्ली कैबिनेट ने डीडीसीए घोटाले की जाँच के लिए आयोग गठित करने का फ़ैसला लिया है. डीडीसीए घोटाले और सचिवालय पर सीबीआई छापे पर चर्चा होगी."

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सचिवालय पर सीबीआई के छापे को डीडीसीए और अरुण जेटली से जोड़ा था.

आम आदमी पार्टी ने डीडीसीए के अध्यक्ष रहे अरुण जेटली पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे जिन्हें जेटली ने बेबुनियाद क़रार दिया है.

आप ने गोपाल सुब्रमण्यम की अध्यक्षता में डीडीसीए में हुए कथित भ्रष्टाचार की जांच के लिए आयोग गठित करने का फ़ैसला लिया है.

इसी बीच कांग्रेस ने राज्यसभा और लोकसभा में जेटली का इस्तीफ़ा मांगते हुए हंगामा किया है. राज्यसभा की कार्रवाई बुधवार तक के लिए स्थगित करनी पड़ी है.

विपक्ष के इस्तीफ़े की मांग पर जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडु ने सरकार की ओर से कहा, "अरुण जेटली उस वक़्त मंत्री नहीं थे और 2013 के बाद से डीडीसीए के भी अध्यक्ष नहीं हैं. वे पूरे देश में अपनी ईमानदारी और चरित्र के लिए जाने जाते हैं. अरुण जेटली की वित्त मंत्री के रूप में इसमें कोई भूमिका नहीं है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार