'मोदी ने दबाया रिश्तों का रीसेट बटन'

मोदी और शरीफ़ इमेज कॉपीरइट EPA

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अचानक हुए पाकिस्तान दौरे पर दुनिया के कई देशों ने सकारात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ अमरीका ने मोदी और शरीफ़ की बातचीत का स्वागत करते हुए कहा कि दोनों पड़ोसी देशों के रिश्ते सुधरना दक्षिण एशिया के हित में है.

अमरीकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा, "हम मोदी और शरीफ़ के बीच 25 दिसंबर को लाहौर में हुई बातचीत का स्वागत करते हैं. भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते बेहतर होने से पूरे क्षेत्र का फ़ायदा होगा."

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून ने भी इसका स्वागत करते हुए उम्मीद जताई कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता आगे बढ़ेगी और रिश्ते बेहतर होंगे.

इमेज कॉपीरइट AFP

दुनियाभर में मीडिया ने भी मोदी के इस दौरे को सकारात्मक क़दम बताया है.

अमरीकी न्यूज़ चैनल सीएनएन ने एक रिपोर्ट में कहा कि मोदी की यह यात्रा इस बात का संकेत है कि दोनों देशों के रिश्तों में जमी बर्फ अब पिघलने लगी है.

'द वॉशिंगटन पोस्ट' के मुताबिक़ मोदी ने परमाणु शक्ति संपन्न भारत-पाक के गर्म-ठंडे रिश्तों पर रीसेट बटन दबाकर अगले महीने होने वाली समग्र वार्ता का मार्ग प्रशस्त कर दिया है.

'द शिकागो ट्रिब्यून' की रिपोर्ट कहती है कि अचानक हुआ मोदी का यह दौरा इस बात की तरफ़ इशारा भारत-पाक रिश्तों में गर्माहट आ रही है.

श्रीलंकाई अख़बार 'श्रीलंका गार्डियन' का कहना है कि शांति चाहने वाले भारत और पाकिस्तान के नागरिकों की कामना होगी कि अगला साल दोनों देशों के बीच शांति और सौहार्द लेकर आए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)