तस्वीरों में मृणालिनी साराभाई का सफ़र

इमेज कॉपीरइट darpan academy
Image caption बचपन में अपनी मां, दादी और चाची के साथ मृणालिनी साराभाई.

मशहूर शास्त्रीय नृत्यांगना मृणालिनी साराभाई का गुरुवार को 97 की आयु में अहमदाबाद में निधन हो गया.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

स्विट्जरलैंड के स्कूल में मृणालिनी. उनका बचपन यहीं बीता था.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

गुरु रविंद्रनाथ टैगोर की देखरेख में 1938 में शांति निकेतन से पढ़ाई-लिखाई की.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

गीत गोविन्दम की मनमोहक नृत्य प्रस्तुत करते हुए.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

शांति निकेतन से शिक्षा हासिल करने के बाद वह कुछ समय के लिए अमरीका चली गईं. भारत लौट कर आने पर भरतनाट्यम और कथकली नृत्य का प्रशिक्षण लिया.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

मृणालिनी साराभाई का विवाह भारत में अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक डॉक्टर विक्रम साराभाई के साथ 1942 में हुआ.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

साल 1947 में उनकी पहली संतान कार्तिकेय का जन्म हुआ. अपने पति और बेटे के साथ मृणालिनी साराभाई

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

उन्होंने कथकली की अपनी पहली प्रस्तुति दिल्ली में दी. उनके नृत्य की सराहना करते पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

मां की तरह उनकी बेटी मल्लिका साराभाई ने भी नृत्य को अपनाया. मां-बेटी एक साथ प्रस्तुति देती हुईं.

इमेज कॉपीरइट Darpana Academy

मृणालिनी साराभाई ने 1949 में दर्पण संस्थान की स्थापना की और बच्चों को शास्त्रीय नृत्य का प्रशिक्षण देना शुरू किया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)