छेड़ख़ानी केस में गिरफ़्तार विधायक को मिली ज़मानत

सरफ़राज़ आलम इमेज कॉपीरइट Niraj Sahai

बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड के एक विधायक सरफ़राज़ आलम को छेड़ख़ानी और अभद्र व्यवहार के आरोप के चलते गिरफ़्तार किया गया.

पटना रेलवे पुलिस के एसपी के मुताबिक़ 20-20 हज़ार रुपए के दो मुचलकों पर विधायक को थाने से ज़मानत मिल गई है.

वो जोकीहाट से विधायक हैं. इस मामले में उन्हें एक दिन पहले ही पार्टी से निलंबित कर दिया गया था.

पटना के एसपी रेल पुलिस पीएन मिश्रा ने बताया, ''उन्हें इस शर्त पर ज़मानत दी गई है कि वे पुलिस के बुलावे पर थाने में हाज़िर होंगे और इस मामले से जुड़े गवाह पर किसी तरह का दबाव नहीं डालेंगे.''

सरफ़राज़ आलम पर आरोप है कि कुछ दिन पहले डिब्रूगढ़-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में उन्होंने दिल्ली के एक दंपति के साथ दुर्व्यवहार किया था.

विधायक सरफ़राज़ आलम ने इस आरोप को ग़लत बताते हुए कहा था कि उन्होंने कथित घटना वाले दिन राजधानी एक्सप्रेस में यात्रा ही नहीं की थी.

एसपी के मुताबिक़ ''विधायक ने ट्रेन में कटिहार से पटना तक यात्रा करने की बात स्वीकार कर ली है. विधायक ने यह भी कहा कि वह टेलीफ़ोन पर ज़ोर-ज़ोर से बातें कर रहे थे जिनमें कुछ अपशब्दों का इस्तेमाल हुआ होगा लेकिन उन्होंने किसी दंपति के साथ छेड़खानी की बात को सिरे से ख़ारिज किया है.''

निलंबन की कार्रवाई के एक दिन पहले ही अपर पुलिस महानिदेशक सुनील कुमार ने बताया था कि पुलिस ने दिल्ली जाकर जांच की थी और शिकायतकर्ता दंपति और ट्रेन के टिकट निरीक्षक के बयान लिए थे.

इस आधार पर रेल पुलिस के आरक्षी अधीक्षक ने इस घटना को सही पाया था.

गुरुवार को जारी नोटिस के आधार पर रेलवे पुलिस ने शनिवार देर शाम तक विधायक सरफ़राज़ से पूछताछ की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार