इंडिया आर्ट फ़ेयर की रंग बिरंगी झलकियां

  • 31 जनवरी 2016
art fair
Image caption पाकिस्तान से कलाकारों की पेंटिंग्स के साथ सनम तासीर

दिल्ली में आठवां इंडिया आर्ट फ़ेयर शुरू हो चुका है. ख़ास बात ये है कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल इसमें पहली बार शामिल हो रहे हैं. 28 से 31 जनवरी के बीच कला प्रेमियों को एक ही छत के नीचे कई कलाकारों की कला देखने को मिल रही है.

इस बार पहली बार पाकिस्तान की तासीर आर्ट गैलरी से इंडिया आर्ट फ़ेयर में चार कलाकरों के काम को दिखाया गया है. हुमैरा आबिद के काम को सबने सराहा जिसमें कई लंचबॉक्स रखे गए हैं.

Image caption पाकिस्तान की हुमैरा आबिद की पेंटिंग

लाहौर की तासीर आर्ट आर्ट गैलरी से आई सनम तासीर कहती हैं कि हुमैरा घर से जुडी चीज़ों पर ही ज़्यादा काम करती आई हैं .

नेपाल से आए कलाकारों ने नेपाल में भूकम्प की त्रासदी को यहाँ के स्टॉल में दिखाया है.

Image caption नेपाल की आर्टिस्ट शीलआशा राजभण्डारी

नेपाल की शीलआशा की कला ने सबका ध्यान अपनी तरफ़ खींचा है. इसमें भूकम्प से पीड़ित लोगों ने ऊन के छोटे-छोटे बनाये इन टुकड़ों को जोड़ कर एक भूकम्प पीड़िता की तस्वीर बनाई है .

Image caption पॉप आर्ट

हर तरह के रंग इंडिया आर्ट फ़ेयर में देखने को मिल रहे हैं और इनमें एक है बाई स्कोप.

Image caption मेले में बाई स्कोप

एक कार पर की गई कला जिसको पॉप आर्ट कहते हैं, उसकी भी प्रशंसा हो रही है.

दिल्ली आर्ट गैलेरी में हर पेंटिंग के बारे में विस्तार से बताया गया है जहाँ कई स्कूल के बच्चों ने कला और कलाकार के बारे में जाना.

Image caption दिल्ली आर्ट गैलेरी

इसके हर सेक्शन में एक क्यूरेटर है जो उसके बारे में विस्तार से बताते हैं. ऐसा सिर्फ़ इस आर्ट गैलेरी में है जो यहाँ आने वाले लोगों के लिए काफ़ी मददगार देखा गया.

पेंटिंग्स के साथ-साथ कॉफ़ी टेबल बुक भी इस मेले में देखी गई. महारानी रॉयल वुमन ऑफ़ इंडिया में भारत का इतिहास नज़र आ रहा है .

Image caption महारानी रॉयल वुमन ऑफ़ इंडिया
Image caption चाय ढाबा

वहीं स्पीकर्स फ़ोरम में कई आर्टिस्ट, आर्ट क्रिटिक, आर्ट क्यूरेटर, आर्ट राइटर्स की आर्ट टॉक भी आयोजित की जा रही है.

Image caption सुबोध गुप्ता

चित्रकार, इंस्टॉलेशन, मूर्तिकला, पेंटिंग, फ़ोटोग्राफ़ी सहित कई कलाओं में माहिर कलाकार सुबोध गुप्ता की एक कृति. जिसमे आम आदमी के लिए साइकल कितनी ज़रूरी है ये दर्शया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार