चुनाव का इंतज़ार करें, जनता धूल चटाएगी: सिन्हा

यशवन्त सिन्हा

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार पर सीधा निशाना साधा है.

यशवंत सिन्हा पिछले कुछ दिनों से पार्टी में हाशिए पर चल रहे हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार शनिवार को गोवा में सिन्हा ने कहा कि मोदी सरकार में संवाद की कमी है और इस सरकार का हश्र आपातकाल लगाने वाली इंदिरा गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार जैसा हो सकता है.

एजेंसी के मुताबिक़ सिन्हा ने ये बातें 'डिफ़िकल्ट डायलॉग्स' नामक एक कार्यक्रम में कहीं, जहां सीपीआई-एम के महासचिव सीताराम येचुरी भी वक्ता के तौर पर मौजूद थे.

इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

उन्होंने कहा, "संवाद की कोई गुंजाइश ही नहीं है...भारत के लोकतंत्र में बहुत ताक़त है, कुछ रुकावटें हो सकती हैं, वर्तमान स्थिति को लेकर कुछ चिंताएं हो सकती हैं. लेकिन भारत का महान समाज इसका ध्यान रखेगा और जो संवाद में विश्वास नहीं रखते उन्हें धूल चटा देगा."

मोदी का नाम लिए बिना सिन्हा ने कहा, ''भारत के लोग उन्हें धूल में मिला देंगे, आप सिर्फ़ अगले चुनाव का इंतज़ार कीजिए."

वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री रहे सिन्हा ने 1977 के आम चुनाव का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर दिया गया था, ऐसे ही संवाद से भागने वाली सरकार उन्नीस महीने ही रह पाएगी, जो कि आपातकाल की अवधि के बराबर होंगे.

उन्होंने आगे कहा, ''हम सब जानते हैं कि आपातकाल जो कि अभिव्यक्ति और असहमति की स्वतंत्रता को कुचलने का संगठित प्रयास था उसके ख़िलाफ़ भारत के लोग कैसे खड़े हो गए थे.''

जब सीताराम येचुरी ने समाज में संवाद का गला घोटने पर सवाल पूछा तो सिन्हा ने जवाब दिया, "मैं सिर्फ़ इतना कह सकता हूं कि (संवाद का) गला घोटने वाले बड़ी मुश्किल में होंगे."

सिन्हा ने विपक्ष को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि वह संसद चलने नहीं दे रहा है.

लेकिन उन्होंने इस बात को भी दोहराया कि वाजपेयी सरकार में विपक्ष के साथ बातचीत कर कई महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित किया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)