महबूबा ने गेंद केंद्र के पाले में डाली

पीडीपी नेता महबूबा मुफ़्ती ने कहा है कि भारत प्रशासित जम्मू कश्मीर में नई सरकार के गठन के लिए एक माहौल की ज़रूरत है और इस बारे में केंद्र सरकार को कुछ क़दम उठाने होंगे.

मंगलवार को राज्यपाल एनएन वोहरा से मिलने के बाद महबूबा मुफ्ता ने कहा कि ऐसे क़दम उठाने की ज़रूरत है जिनसे नई सरकार को लेकर लोगों में भरोसा जगे.

पिछले महीने महबूबा के पिता और राज्य के मुख्यमंत्री मुफ़्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद अब तक नई सरकार का गठन नहीं हुआ है.

मुफ़्ती मोहम्मद सईद पीडीपी और भारतीय जनता पार्टी की गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे थे.

महबूबा ने कहा, "नई सरकार बनाने के लिए माहौल बनाने की ज़रूरत है. मुफ़्ती साहब का वादा मेरे लिए अहम है, लेकिन आप (बीजेपी) कौन से कदम उठाने के लिए तैयार हैं जिससे ये माहौल बने."

उन्होने कहा, "हमारी गठबंधन सरकार बनने से पहले केंद्र की ओर से ऐसे क़दम उठाए जाएँ जिससे नई सरकार को एक गति मिले."

महबूबा के मुताबिक "पीडीपी और बीजेपी में मतभेदों की कोई बात नहीं है. हमें कई ताकतों का मुक़ाबला करना है, ज़रूरी है कि मुल्क की सरकार हमारे पीछे खड़ी हो और ये भरोसा जगाने वाले क़दमों से होगा."

वहीं भाजपा नेता और मुफ़्ती सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे निर्मल सिंह ने कहा है कि उन्होंने राज्यपाल से अभी आठ दिन का और समय मांगा है.

उन्होंने कहा कि सरकार के गठन के लिए पहले पीडीपी को आगे बढ़ना होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार