चव्हाण पर मुक़दमा चलाने को मंज़ूरी

इमेज कॉपीरइट PTI

महाराष्ट्र के राज्यपाल सी विद्यासागर राव ने गुरुवार को आदर्श हाउसिंग केस में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के ख़िलाफ़ मुक़दमा चलाने की मंज़ूरी दे दी है.

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने राज्यपाल से चव्हाण के ख़िलाफ़ मुक़दमा चलाने की मंज़ूरी मांगी थी.

कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने इस फ़ैसले को राजनीति और बदला लेने की भावना से प्रेरित बताया है.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने चव्हाण के आरोप को ख़ारिज कर कहा कि मुक़दमा चलाने की पर्याप्त वजहें हैं.

2013 में तत्कालीन राज्यपाल के शंकरनारायणन ने सीबीआई को मुक़दमा चलाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था.

एक आरटीआई याचिका पर नवंबर 2010 में आदर्श हाउसिंग सोसायटी मामला सामने आया था.

कारगिल युद्ध की विधवाओं के लिए मुंबई के पॉश इलाक़े कोलाबा में छह मंज़िला हाउंसिंग सोसायटी बनाई गई थी.

लेकिन भ्रष्ट राजनेताओं और सेना के अधिकारियों की साठगांठ से ये सोसायटी 31 मंज़िला विशाल इमारत में तब्दील हो गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार