200 मील प्रति घंटे की रफ़्तार वाली जगुआर

जैगुआर इमेज कॉपीरइट

जगुआर ने 1992 की एक्सजे220 के बाद से 200 मील प्रति घंटा (एमपीएच) रफ़्तार वाली कार नहीं बनाई है. लेकिन अब यह बदलने वाला है.

ऐसे में ब्रिटेन के 200 एमपीएच क्लब के विशिष्ट सदस्यों पर एक नज़र डालते हैं और बताते हैं उनकी खूबियां.

इमेज कॉपीरइट

जगुआर एफ़-टाइप आर कूपे

जगुआर लैंड रोवर की स्पेशल व्हीकल ऑपरेशन्स टीम ने बेहद व्ययस्तता के बावजूद एफ़-टाइप आर के लिए समय निकाल लिया. ये ऐसी कार है जिसके प्रदर्शन में कभी कमी नहीं आई. इसका परिणाम है, यहां दिख रही ये एफ़-टाइप एसवीआर.

दोनों कूपे और कनवर्टिबल मॉडल्स में बहुत सारे एयरो अपग्रेड हैं जिनमें फ़िक्स्ड रीयर विंग्स, पिछले बंपर के नीचे डिफ़्यूज़र्स और फ्रंट में चौड़े स्प्लिटर्स शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट

जगुआर की योजना है कि मार्च में जिनेवा मोटर शो में कार को आधिकारिक रूप से लॉंच करने से पहले इसकी सारी तकनीकी विशेषताओं के बारे में बता दिया जाए.

हालांकि ये उम्मीद की जा सकती है कि एफ़-टाइप आर के सुपरचार्ज्ड 5-लीटर के वी8 इंजन की ताकत 550 हॉर्सपावर से बढ़कर 570 हॉर्सपावर हो जाएगी और वजन कम हो जाएगा.

जगुआर में पिछली ओर स्थित ऑलव्हील ड्राइव सिस्टम है. एक बात तो तय है कि कूपे 200 एमपीएच के लिए एक अच्छी गाड़ी है.

इमेज कॉपीरइट Aston Martin

एस्टन मार्टिन वैन्क्विश

साल 2004 में एस्टन मार्टिन ने वैन्क्विश एस से पर्दा उठाया था जो इसकी जेम्स बॉंड की फिल्मों में दिखी बहुचर्चित कार थी. अपने 5.9 लीटर के वी12 और 520 हॉर्सपावर वाले इंजन से यह 200 एमपीएच की अधिकतम गति हासिल कर सकती थी.

इसके 12 साल बाद नई वैन्क्विश कूपे आई है जो बड़ी, ज़्यादा सुरक्षित और शानदार है. यह पुरानी गाड़ी के संशोधित वी12 इंजन से 201 एमपीएच की अधिकतम गति हासिल करती है.

इमेज कॉपीरइट Aston Martin

एस्टन मार्टिन वी12 वांटेज एस रोडस्टर

जहां वैन्क्विश शांति से चलती है वहीं वी12 वांटेज एस और वी12 वांटेज शोर करती हैं. वी12 वांटेज एस रोडस्टर का 5.9 लीटर का 565 हॉर्सपावर पैदा करने वाला इंजन दरअसल इसके लिए ख़ासा ताकतवर इंजन है. इसे एक पतली, फुर्तीली वी8 इंजन से चलने वाली स्पोर्ट्स कार के लिए बनाया गया था.

बहरहाल वी12 वांटेज एस कूपे शून्य से 60 एमपीएच की रफ़्तार सिर्फ़ 3.8 सेकेंड में पकड़ लेती है और 205 एमपीएच तक की रफ़्तार ले सकती है.

इमेज कॉपीरइट Bentley

बेंटली कॉंटिनेंटल जीटी स्पीड / जीटीसी स्पीड

यह कार 626-हॉर्सपावर वाले ट्विन-टर्बो 6 लीटर डब्ल्यू 12 इंजन के बेहतरीन प्रदर्शन का एक नमूना है. ये दरअसल दो संकरे-कोण वाले वी-6 हैं जो एक ही क्रैंकशॉफ़्ट पर लगे हुए हैं.

यह 5200 पाउंड वज़न वाली ऑल व्हील ड्राइव कार 200 एमपीएच को आसानी से पार कर लेती है. जीटी की स्पीड कूपे 206 एमपीएच की अधिकतम रफ़्तार पर चल सकती है.

वहीं जीटीसी कनवर्टिबल 203 एमपीएच की अधिकतम गति हासिल कर सकती है.

इमेज कॉपीरइट McLaren

मैकलॉरेन 650एस कूपे / स्पाइडर

पी1 हाइब्रिड हाइपर कार ने दिसंबर में अपनी 375वीं कार का निर्माण किया. 675एलटी कूपे और स्पाइडर बाज़ार में आते ही बिक गईं. अब तक मैकलारेन 650एस कूपे और स्पाइडर अपने मॉडल की सबसे अच्छी गाड़ियां हैं.

641 हॉर्सपावर पैदा करने वाले ट्विन-टर्बो 3.8 लीटर वाले वी8 इंजिन की बदौलत कूपे शून्य से 60 एमएचपी मात्र 3 सेकेंड में पहुंच जाती है और 207 एमपीएच की रफ़्तार तक हासिल कर सकती है (स्पाइडर 204 एमपीएच तक जाती है).

इमेज कॉपीरइट McLaren

मैकलारेन 570एस कूपे

क्या ऐसी कोई दूसरी कार कंपनी है जिसका 'शुरुआती' मॉडल ही ज़ीरो से 60 एमपीएच 3.2 सेकेंड में पहुंच जाए और 204 एमपीएच तक की स्पीड हासिल कर सके? (इसका उत्तर है: नहीं).

मैकलारेन 570एस में 650ए ट्विन-टर्बो वी8 इंजन का एक हल्का 561 हॉर्सपावर का वर्ज़न है. ये 2015 में आई और इसका मर्सेडीज़-एएमजी जीटी, ऑडी आर8 और पोर्श 911 टर्बो जैसी भारी गाड़ियों से सीधा मुकाबला था.

मैकलारेन के अनुसार 570एस के स्पाइडर, फ़ास्टबैक जीटी और लॉंगटेल वर्ज़न जल्दी ही आने वाले हैं.

अंग्रेज़ी में मूल लेख यहाँ पढ़ें जो बीबीसी ऑटोस पर उपलब्ध है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार