बिहार बीजेपी उपाध्यक्ष की गोली मार कर हत्या

बिशेश्वर ओझा

बिहार से आ रही ख़बरों के अनुसार, प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा की गोली मार कर हत्या कर दी गई है.

उन्हें आरा के शाहपुर में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारी. ओझा अापराधिक छवि के नेता थे और उनपर 10 से ज़्यादा मुकदमे चल रहे थे.

पिछले विधानसभा चुनावों में वो आरा ज़िले के शाहपुर क्षेत्र से चुनाव लड़े थे और राष्ट्रीय जनता दल के टिकट पर लड़ रहे शिवानंद तिवारी के बेटे मंटू तिवारी से हार गए थे.

यह वही क्षेत्र है जहां, भाजपा के नेता और पूर्व केंद्रीय गृह सचिव आरके सिंह ने टिकट बँटवारे को लेकर असंतोष जताया था.

एडीजी (पुलिस मुख्यालय) सुनील कुमार ने घटना की पुष्टि करते बताया गया शाम करीब साढ़े पांच बजे विशेश्वर ओझा की हत्या की गई.

सुनील कुमार ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि विषेष जांच दल से मामले की जांच कराकर जल्द से जल्द कार्रवाई की जाएगी.

इमेज कॉपीरइट Manish Saandilya

वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय ने आरोप लगाया है कि राज्य में राजनीतिक हत्याओं का दौर चल रहा है.

उन्होंने ओझा के हत्यारों को गिरफ्तार करने के लिए राज्य सरकार को 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया है.

हत्या की वारादात तब सामने आई है जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार और शुक्रवार को लगातार दो दिनों तक कानून व्यवस्था के सवाल पर मैराथन बैठक की. पटना में हुई इस बैठक में राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक समेत कई आला अधिकारी मौजूद थे.

इस बीच गुरुवार की रात सारण जिले में भाजपा नेता केदार सिंह की हत्या कर दी गई.

वहीं बीते हफ्ते 5 फरवरी को लोजपा नेता और रामविलास के करीबी माने जाने बृजनाथी सिंह की हत्या पटना के कच्ची दरगाह इलाके में कर दी गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार