भारत की नाराज़गी पर पाकिस्तान 'हैरान'

इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान ने ख़ुद को एफ़-16 लड़ाकू विमानों की ब्रिक्री पर भारत की नाराज़गी को लेकर हैरानी जताई है.

शनिवार को भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान को एफ-16 विमान बेचने के अमरीका के फ़ैसले पर नाराज़गी जताई और इस मुद्दे पर दिल्ली में अमरीकी राजदूत को तलब किया.

रविवार को पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा है कि वो भारत के रुख़ से हैरान है.

बयान में कहा गया है, "हम भारत सरकार की प्रतिक्रिया से हैरान और निराश हैं. उनकी सेना कहीं ज़्यादा बड़ी है और वो रक्षा साज़ो-सामान के सबसे बड़े आयातक हैं."

बयान में कहा गया है कि जहां तक एफ-16 विमानों की बिक्री की बात है तो 'पाकिस्तान और अमरीका आतंकवाद से निपटने की दिशा में नज़दीकी तौर पर काम कर रहे हैं.'

अमरीका आठ एफ़-16 लड़ाकू विमान पाकिस्तान को बेच रहा है.

लॉकहीड मार्टिन कॉर्पोरेशन द्वारा बनाए गए इन विमानों के साथ-साथ पाकिस्तान को राडार और अन्य उपकरण भी मिलेंगे.

इसके लिए दोनों मुल्कों के बीच क़रीब 69.9 करोड़ डॉलर का क़रार हुआ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)