सचिन और आनंद ने की मन की बात

इमेज कॉपीरइट MANJUL

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और सुपर ग्रैंड मास्टर विश्वनाथन आनंद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम 'मन की बात' में छात्रों को परीक्षाओं में सफलता के गुर सिखाए.

सचिन और आनंद के अलावा कथावाचक मुरारी बापू और भारत रत्न से सम्मानित वैज्ञानिक सीएनआर राव ने भी छात्रों को आने वाली परीक्षाओं के लिए शुभकामनाएं दीं.

सचिन ने कहा कि छात्र ख़ुद अपने लक्ष्य तय करें और दूसरे की अपेक्षाओं के बोझ के नीचे दबा महसूस न करें.

दूसरी ओर आनंद ने आत्मविश्वास को सफलता की कुंजी बताते हुए कहा कि छात्रों परीक्षा से डरने की ज़रूरत नहीं है.

इमेज कॉपीरइट Rakhee

कथावाचक मुरारी बापू ने भी छात्रों को परीक्षा के समय मन पर बोझ रखे बिना बुद्धि का स्पष्ट निर्णय करके और चित को एकाग्र रहने की सलाह दी है.

मोदी ने कहा कि छात्रों को बहुत बड़े उद्देश्य लेकर चलना चाहिए और अगर कुछ कम भी हासिल हुआ तो निराशा नहीं होगी.

उन्होंने कहा, "हम दूसरों से स्पर्द्धा करने में अपना समय क्यों बर्बाद करें. अपने ही पहले के सारे रिकॉर्ड तोड़ने का तय क्यों न करें."

प्रधानमंत्री ने कहा, "जब मैं कभी तनाव महसूस करता हूं, तो 3-4 गहरी सांस लेता हूं, जिससे मन शांत हो जाता है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार