छेड़खानी के आरोप में मंत्री का बेटा गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट Reuters

आंध्र प्रदेश पुलिस ने 20 वर्षीय एक टीचर के साथ दुर्व्यवहार के आरोप में राज्य के सामाजिक कल्याण मंत्री रवेला किशोर बाबू के बेटे रवेला सुशील और उनके ड्राइवर को गिरफ़्तार कर लिया है.

सहायक पुलिस आयुक्त उदय रेड्डी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि सुशील और उनका ड्राइवर रमेश को इस मामले में नोटिस दिया गया था. दोनों रविवार तड़के पुलिस के सामने पेश हुए और जांच के बाद उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया.

रे़ड्डी ने कहा कि दोनों को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा. दोनों के ख़िलाफ़ शनिवार को आईपीसी की धारा 354 और 509 के तहत मामला दर्ज किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Ravela Susheel Facebook

20 वर्षीय महिला ने शिकायत की थी कि जब वह गुरुवार को स्कूल जा रही थीं तो एमएलए का स्टीकर लगी एक कार ने उनका पीछा किया था.

महिला का आरोप है कि कार के ड्राइवर और उसमें बैठे व्यक्ति ने शराब पी रखी थी और उन्होंने अभद्र टिप्पणी की और उसे ज़बरदस्ती कार में बैठाने की कोशिश की थी.

दूसरी ओर सुशील ने कहा कि वह बेगुनाह हैं और यह मामला राजनीति से प्रेरित है. रवेला किशोर बाबू ने भी अपने बेटे को बेबुनियाद बताया है.

उन्होंने कहा कि पुलिस जांच से दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा और वह इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)