मेहनत मत करो, मैं बात नहीं करूँगा: माल्या

विजय माल्या इमेज कॉपीरइट bbc

उद्योगपति विजय माल्या ने कहा कि मीडिया उनका पीछा कर रहा है, लेकिन अफ़सोस कि वे उनकी सही जगह तलाश नहीं कर रहे हैं.

माल्या ने रविवार को ट्वीट किया, "यूके में मीडिया मेरा पीछा कर रहा है. लेकिन अफ़सोस है कि वे सही जगह तलाश नहीं कर रहे हैं. मैं मीडिया से बात नहीं करूँगा, इसलिए अपनी मेहनत बेकार मत करो."

अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने 9 मार्च को सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि माल्या 2 मार्च को ही देश छोड़ चुके हैं. बैंकों ने माल्या का पासपोर्ट जब्त करने संबंधी याचिका सुप्रीम कोर्ट में दी थी.

भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले कंसोर्शियम ने 9000 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज़ नहीं चुका पाने के मामले में माल्या के ख़िलाफ़ कोर्ट और ट्रिब्यूनल में अपील की है.

इस बीच, शनिवार को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने विलफुल डिफॉल्टर यानी जानबूझकर कर्ज़ नहीं चुकाने वालों पर सख्ती करते हुए उनके फंड जुटाने पर रोक लगा दी थी.

उद्योगपति विजय माल्या के कर्ज़ नहीं चुकाने के विवाद के बीच सेबी का ये फ़ैसला बेहद अहम माना जा रहा है. भारतीय स्टेट बैंक ने विजय माल्या को विलफ़ुल डिफॉल्टर घोषित किया है.

सेबी के अनुसार जानबूझकर कर्ज़ नहीं चुकाने वाले फंड नहीं जुटा पाएंगे. साथ ही उन पर पब्लिक इश्यू आईपीओ या एफ़पीओ के ज़रिए रकम जुटाने पर भी रोक रहेगी. इसके अलावा ऐसे लोग सूचीबद्ध कंपनियों पर भी नियंत्रण नहीं रख सकेंगे.

सेबी ने विलफ़ुल डिफॉल्टर्स को म्यूचुअल फंड्स जैसा कारोबार शुरू करने पर भी रोक लगा दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार