केरल में कांग्रेसी कार्यकर्ता की हत्या

इमेज कॉपीरइट Pragit Parameswaran
Image caption सुनील कुमार

भारतीय युवा कांग्रेस के एक कार्यकर्ता की केरल के अलापुज़्हा ज़िले के चेप्पड़ इलाक़े में मंगलवार तड़के पीट-पीटकर हत्या कर दी गई.

पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान 30 वर्षीय सुनील कुमार के रूप में हुई है. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार 10 लोगों ने तलवारों से सुनील पर हमला कर उनकी हत्या कर दी.

उनके पड़ोसी और हमले के प्रत्यक्षदर्शी सदाशिवन एन ने कहा, "तेज़ आवाज़ें सुनने के बाद सभी पड़ोसी यहां दौड़ते हुए आए लेकिन तब तक हमलावर भाग निकले."

सुनील के रिश्तेदार और पड़ोसी उन्हें हरिप्पड़ तालुक अस्पताल ले गए जिसके बाद उन्हें अलापुज़्हा मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया.

पुलिस के अनुसार इसके पीछे राजनीतिक दुश्मनी हो सकती है. सुनील इससे पहले डीवाईएफ़आई (डेमोक्रेटिक यूथ फ़ेडरेशन आॅफ़ इंडिया) के साथ थे और बाद में कांग्रेस से जुड़े.

पुलिस के अनुसार, "इस बात की आशंका है कि वामपंथी दल के लोग सुनील के इस फ़ैसले से ख़ुश नहीं थे जिसके चलते उन्होंने यह क़दम उठाया. एक सप्ताह पहले सुनील का वामपंथी दलों से जुड़़े दो छात्र कार्यकर्ताओं से भी झगड़ा हुआ था."

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

पुलिस ने बताया, "इस हमले के आरोप में चार माकपा समर्थकों को गिरफ़्तार किया गया है जिसमें एक पूर्व पंचायत अध्यक्ष भी शामिल है."

केरल में 16 मई को चुनाव होने है और दो महीने पहले भाजपा के एक कार्यकर्ता की भी हत्या हो चुकी है.

वहीं सीपीएम और भाजपा के चार कार्यकर्ताओं पर भी हमले हुए हैं.

एक हफ़्ते पहले आरएसएस के एक कार्यकर्ता एवी बीजू पर भी हमला हुआ था जिसमें पुलिस ने पांच सीपीएम कार्यकर्ताओं को आरोपी बनाया है.

वहीं पिछले महीने आरएसएस कार्यकर्ता सुजीथ की उनके माता-पिता के सामने हत्या कर दी गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)