अब बंदर जिताएगा पाकिस्तान को मैच?

इमेज कॉपीरइट AP

भारत और पाकिस्तान के बीच कोलकाता में शनिवार को होने वाला टी20 वर्ल्ड कप मैच पाकिस्तान के उर्दू टीवी चैनलों पर सबसे बड़ी ख़बर बना हुआ है.

मैच से पहले टीवी चैनल दिलचस्प अंदाज़ में हिंदी गाने चलाकर भारत के ख़िलाफ़ भिड़ रहे अपने खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने की कोशिश में हैं.

जियो न्यूज़ बॉलीवुड फ़िल्म 'बाजीराव मस्तानी' का गाना चला रहा है- दुश्मन की वाट लाउली.

जियो ने यह ख़बर भी दी कि कोलकाता में फ़ैन पाकिस्तानी क्रिकेटरों के चारों तरफ़ इकट्ठे हैं. चैनल ने साथ ही बैकग्राउंड में हिंदी फ़िल्म का गाना 'सेल्फ़ी ले ले रे' चलाया.

इमेज कॉपीरइट Geo News Channel TV Grab

इसी के साथ एक बंदर को दिखाया गया, जिसका नाम शेरा बताया गया है. इसके मुताबिक़ इस बंदर ने भविष्यवाणी की है कि पाकिस्तान टीम मैच जीतेगी और इसके बाद मुस्कराते हुए चैनल के एंकरों ने कहा, ''तनाव में आने की कोई ज़रूरत नहीं है.''

टीवी एंकरों ने यह भी कहा कि मैच की सूचना देने के लिए गूगल डूडल भी बदला गया है.

जियो ने ही पाकिस्तान के सक्खड़ इलाक़े में कुछ हिंदू परिवारों का इंटरव्यू दिखाया. इसमें वो कहते दिखाई दे रहे हैं कि वो पाकिस्तान की जीत चाहते हैं. इसके अलावा उन्हें पाकिस्तान टीम की फ़तह के लिए पूजा-पाठ करते भी दिखाया गया.

इमेज कॉपीरइट AP

जियो ने शनिवार को होने वाले मैच को 'दंगल' की संज्ञा की जबकि एक्सप्रेस न्यूज़ ने इसे 'फ़ाइनल से पहले फ़ाइनल' और 'वर्ल्ड वॉर ऑफ़ क्रिकेट' क़रार दिया.

इसी के साथ उन्होंने हिंदी फ़िल्म 'दबंग' का टाइटिल गीत भी चलाया.

पाकिस्तान के एक अन्य न्यूज़ चैनल समा न्यूज़ ने ख़बर दी कि पूर्व क्रिकेटर और तहरीके इंसाफ़ पार्टी के प्रमुख इमरान ख़ान ख़ुद अपने खिलाड़ियों की हौसला अफ़ज़ाई के लिए भारत में हैं, जहां वो उन्हें सलाह देंगे कि 'भारतीय सूरमाओं को कैसे हराना है.'

इमेज कॉपीरइट AFP

दिलचस्प बात यह है कि एआरवाई न्यूज़ ने कहा कि मैच के लिए लगे सट्टे में भारत की जीत का अनुमान लगाया जा रहा है.

पाकिस्तान में ट्विटर पर शनिवार सुबह कुछ टॉप ट्रैंड्स में ''19th Match'' और ''#PAKvsIND'' चल रहे हैं.

(बीबीसी मॉनिटरिंग दुनिया भर के टीवी, रेडियो, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों पर रिपोर्टिंग और विश्लेषण करता है. आप बीबीसी मॉनिटरिंग की खबरें ट्विटर और फ़ेसबुक पर भी पढ़ सकते हैं. बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार