'भारतीय नागरिक को प्रताड़ित कर रहा है पाक'

इमेज कॉपीरइट others

भारत ने पाकिस्तान के इन आरोपों को फिर ठुकरा दिया है कि पिछले दिनों बलूचिस्तान में गिरफ़्तार व्यक्ति भारत का जासूस है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार विदेश मंत्रालय ने कहा है, "हमारी जांच से पता चला है कि भारतीय नागरिक को प्रताड़ित किया जा रहा है जो ईरान से क़ानूनी तरीके से अपना कारोबार चला रहा था. हम उसके अपहरण की संभावना से इनकार नहीं कर सकते."

मंत्रालय के मुताबिक़ ये आरोप पूरी बेबुनियाद है कि ये व्यक्ति भारत सरकार के कहने पर विध्वंसकारी गतिविधियों में शामिल था.

इससे पहले, मंगलवार को ही पाकिस्तान में सेना और सरकार की एक साझा प्रेस कांफ्रेस में कुलभूषण जाधव नाम के इस व्यक्ति का एक वीडियो दिखाया गया.

वीडियो में ये व्यक्ति ख़ुद को भारतीय नौसेना का मौजूदा अधिकारी और भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ का सदस्य बता रहा है.

लेकिन भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, "गिरफ़्तार व्यक्ति के बयानों से साफ़ संकेत मिलता है कि उससे ये बयान दिलवाए गए हैं और हम उसकी सलामती को लेकर चिंतित हैं."

बयान में पाकिस्तान से मांग की गई है कि वो भारतीय अधिकारियों को गिरफ़्तार व्यक्ति से मिलने दे.

वीडियो में दिख रहे व्यक्ति का कहना है कि उन्होंने 2003 में खुफिया गतिविधियां शुरू कीं और ईरान के चाबहार में अपना बिज़नेस स्थापित किया.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिम बाजवा ने कहा कि कुलभूषण बलूचिस्तान और अन्य इलाकों में अशांति फैलाने के मिशन पर था.

लेकिन भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि इस व्यक्ति का ईरान से पाकिस्तान पहुंचना कई सवाल खड़े करता है, हो सकता है कि उसका अपहरण किया गया हो.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार