कितनी सफल है गुजरात में शराबबंदी?

गुजरात शराब प्रतिबंध इमेज कॉपीरइट Prashant Dayal

बिहार में शुक्रवार से शराब की बिक्री पर कई क़िस्म के प्रतिबंध लागू हो रहे हैं. कई राज्य पहले शराबबंदी लागू कर चुके हैं लेकिन यह कम ही जगह सफल रही है.

गुजरात भारत का वो राज्य है जहां शराबबंदी सबसे लंबे वक़्त से लागू है.

लेकिन यही एक वजह नहीं है गुजरात की शराबबंदी पर:

1. 1960 से जब महाराष्ट्र से अलग करके गुजरात का नया सूबा बनाया गया सूबे में शराबबंदी लागू है.

2. लेकिन कई लोग प्रतिबंध को सिर्फ़ क़ाग़ज़ों पर मानते हैं. सरकारी के आंकड़ों के मुताबिक़ ही पिछले पांच सालों में वहां 2500 करोड़ रुपए की अवैध शराब ज़ब्त हुई.

3. अवैध शराब की बिक्री से कई लोग इस क़दर परेशान हैं कि उत्तर गुजरात में ठाकोर समुदाय ने ग़ैरक़ानूनी शराब के ठेकों पर जनता ने छापेमारी शुरू कर दी है. पिछले चार महीने में इस तरह के छापे 800 जगहों पर मारे गए हैं.

4. शराबबंदी को लागू करवाने की ज़िम्मेदारी भी पुलिस पर ही है. राज्य में कुल 60,000 पुलिसकर्मी हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

5. गुजरात में ग़ैरक़ानूनी ढंग से शराब पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, दीव और दमन से आती है.

6. छह साल पहले दमन से तस्करी कर राज्य में लाई जा रही शराब विजय माल्या की डिस्टेलरी की थी. इस सिलसिले में दर्ज मामले में विजय माल्या भी एक अभियुक्त हैं.

7. ग़ैरक़ानूनी ज़हरीली पीने से राज्य में अब तक 3,000 लोगों की मौत हुई है. साल 2008 में अहमदाबाद में हुई एक बड़ी दुर्घटना में शराब पीने से 150 लोग मारे गए थे.

इमेज कॉपीरइट Prashant Dayal

इसके बाद क़ानून में संशोधन किया गया और ज़हरीली शराब से मौत होने पर दोषियों के लिए मौत की सज़ा का प्रावधान किया गया.

8. लेकिन सूबे में आजतक एक भी शराब बेचने वाले या पीने वाले को सज़ा नहीं हुई है.

9. स्वास्थ्य कारण बताकर सूबे में शराब पीने का परमिट मिल सकता है, जिसे हेल्थ परमिट कहते हैं. राज्य की छह करोड़ की आबादी में से 55,000 के पास ऐसा हेल्थ परमिट है. पूरे राज्य में शराब की बिक्री करने वाली सिर्फ़ 60 दुकानें हैं.

इमेज कॉपीरइट

10. शराब पर पाबंदी से होने वाले टैक्स भरपाई के लिए केंद्र सूबे को सालाना 1200 करोड़ देता है. ये राशि 1960 से ही मिलनी जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार