बाइक की चोरी, नंगा कर दलित लड़कों की पिटाई

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ के एक गाँव में तीन दलित लड़कों को नंगा करके पीटने के मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ़्तार किया है.

इन दलित लड़कों पर आरोप है कि इन्होंने एक मोटर साईकिल चुराई थी.

पुलिस अधीक्षक प्रसन्न कुमार खमेसरा ने बीबीसी को बताया कि नाबालिग होने की वजह से इन लड़कों को गिरफ़्तार नहीं किया गया है. उन्हें पुलिस की नज़रबंदी में किशोर अदालत में पेश किया जाएगा.

इनमें से दो की उम्र 16 और एक की 17 साल है. दो लड़कों के ख़िलाफ़ दो बार और एक के ख़िलाफ़ पहले भी चोरी के मामलों दर्ज किए जा चुके हैं.

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

उधर कांग्रेस के नेता सचिन पायलेट ने राजस्थान सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि दलितों पर अत्याचार के इस तरह के मामले आए दिन सामने आ रहे हैं और सरकार इन्हें रोकने के पर्याप्त प्रयास नहीं कर रही है.

उधर सरकार का कहना है कि ये लड़के जिस विशेष दलित समुदाय के हैं, उसे समाज की मुख्यधारा से जोड़ने की कोशिश हो रही है.

स्थानीय कट्स संस्था के मदन गिरी गोस्वामी के अनुसार मुख्यधारा से जोड़ने का काम 2008 में शुरू किया गया था और इससे नतीजे भी मिल रहे हैं.

पुलिस अधीक्षक का भी कहना है कि सरकार भी ऐसी संस्थाओं के ज़रिए इस समुदाय के सामाजिक उत्थान की कोशिश कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार